ठाणे जिले के पंचायत समिति के सभापतियों का चुनाव कल

15 जुलाई को होगा ठाणे जिला परिषद अध्यक्ष का चयन 

सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए होगा मतदान 

ठाणे. ठाणे जिला परिषद के शहापूर, मुरबाड, अंबरनाथ, भिवंडी व कल्याण इन पांच पंचायत समितियों के सभापति और उपसभापति पदों का चुनाव रविवार, 5 जुलाई को कराया जाने वाला है. इन समितियों के चुनाव के लिए संबधित तहसील के तहसीलदार पीठासीन अधिकारी के रूप में काम देखने वाले है. पंचायत समिति सभापति और उपसभापति पदों के चुनाव के बाद जिला परिषद् अध्यक्ष पद का चुनाव 15 जुलाई को होगा. 

आपको बतादें कि जनवरी 2018 में ठाणे जिला परिषद सहित अंबरनाथ, कल्याण, मुरबाड, शहापूर, भिवंडी इन पांच पंचायत के लिए चुनाव कराया गया था. इस दौरान शिवसेना ने जिला परिषद के 55 सैलून के इतिहास को बदलकर रख दिया था और जिला परिषद पर पहली बार अकेले दम पर सर्वाधिक जीत हासिल कर अध्यक्ष पड़ के साथ ही दो पंचायत समितियों पर भी अपना कब्जा जमाया था. अब जिला परिषद अध्यक्ष व पंचायत समितियों के सभापतियों का ढाई वर्ष का कार्यकाल खत्म होने वाला है. इसलिए फिर से इन पदों के लिए चुनाव कराया जा रहा है. रविवार, 5 जुलाई को  संबंधित पंचायत समिति कार्यालय में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर सुबह चुनाव होने वाला है. जबकि ठीक 10 दिन बाद 15 जुलाई को जिला परिषद अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पद के लिए चुनाव कराया जाने वाला है.  

राजनीतिक दलों ने कसी कमर 

2018 में हुए जिला परिषद के चुनाव में और अब में बहुत बदलाव आ चूका है. साथ ही राजनीतिक समीकरण भी बदल गया है. 2018 में जहाँ भाजपा शिवसेना का मित्र दल था तो वहीं अब मुख्य विपक्षी पार्टी हो गई है और 2018 में जो विरोधी दल राकां और कांग्रेस थी, वह अब सहयोगी दल बन गई है. इसलिए इस चुनाव में इन चारों दलों ने अपना समीकरण बैठना शुरू कर दिया है. साथ ही कब्जा जामने के लिए सभी दलों ने कमर कस ली है. शिवसेना ने अपने सभी पंचायत समिति सदस्यों को सुबह 10 बजे संबधित पंचायत समिति कार्यालय में उपस्थित रहने का निर्देश दिया है.  भाजपा, राकां और कांग्रेस ने भी अपने सदस्यों को व्हिप जारी किया है.