पनवेल-कामोठे में विद्युत विभाग ने भेजा 4 गुना बिजली बिल

नागरिकों में आक्रोश

नवी मुंबई. 3 महीने के लॉकडाउन के बीच आर्थिक तंगी से जूझ रहे नागरिक जहां सरकार से बिजली बिल माफी की मांग कर रहे हैं वहीं पनवेल का विद्युत विभाग है कि उपभोक्ताओं को 3 से 4 गुना ज्यादा बिल भेजकर सबकी टेंशन बढ़ा दिया है. शुक्रवार को ज्यादा बिलों को लेकर पनवेल और कामोठे समेत कई इलाकों में नागरिकों ने विद्युत विभाग के खिलाफ अपना रोष प्रकट किया.

उदाहरण के तौर पर कामोठे के रामशंकर सिंह को 4620 रुपए का बिल आया है, जबकि हर महीने बिजली बिल 700 से 800 तक आता था. 6 गुना बिल आने से रामशंकर सिंह के लिए नयी मुसीबत पैदा हो गयी है. सिंह ने कहा कि उनकी छोटी फेमिली है, उनके घर का बिल कभी भी 1000  के ऊपर नहीं आया था, लेकिन लॉकडाउन में जब आर्थिक तंगी है तब बिजली विभाग ने उन्हें इतना बड़ा बिल भेज दिया है.

विद्युत अभियंता का किया घेराव

सिंह की तरह पनवेल, कलंबोली और कामोठे क्षेत्र में सैकड़ों ऐसे उपभोक्ता हैं जिन्हें ज्यादा बिल भेजा गया है. शुक्रवार को इसी मसले को लेकर उपभोक्ताओं ने कामोठे विद्युत अभियंता कार्यालय का घेराव किया और ज्यादा बिल पर जवाब जानना चाहा, लेकिन विद्युत अभियंता वटकर गायब थे, इसलिए जवाब नहीं मिल सका. नागरिकों ने सोमवार तक का अल्टीमेटम दिया है वर्ना सड़क पर उतरकर मोर्चा निकालने की चेतावनी दी है.