आवक बढ़ने के कारण थोक में प्याज के दाम में हुई गिरावट

नवी मुंबई. वाशी स्थित एपीएमसी की आलू-प्याज की मंडी में विगत 3 दिनों से प्याज की आवक काफी बढ़ गई है. जिसके चलते अब थोक में प्याज के दाम घटने लगे हैं. शनिवार को आलू-प्याज के मंडी में 105 गाड़ी प्याज की आवक हुई. जो इस साल की सबसे अधिक आवक बताई जा रही है.

गौरतलब है कि प्याज की कीमत में भारी उछाल को देखते हुए केंद्र सरकार ने इसके निर्यात पर रोक लगा दिया था. जिसके चलते प्याज की दर कुछ नियंत्रण में आ गई थी. 20 सितंबर को केंद्र सरकार ने प्याज के निर्यात पर से पाबंदी हटा दिया था. जिसके बाद 21 सितंबर को थोक में प्याज का दाम 38 से 45 किलो तक पहुंच गया था. प्याज की बढ़ती कीमतों को नियंत्रित करने के लिए केंद्र सरकार के द्वारा वाशी की थोक मंडी में नाफेड के माध्यम से प्यार भेजी जा रही है. जिसकी बदौलत मंडी में प्याज की आवक अधिक हो रही है और इसके दाम में गिरावट आ रही है.

थोक में बिकी 5 से 38 रुपए किलो 

मौजूदा समय में वाशी स्थित एपीएमसी की आलू- प्याज की मंडी में 6 प्रकार की गुणवत्ता वाली प्याज आ रही है. जिसमें वीआईपी दर्जे की प्याज का समावेश है. शनिवार को इस दर्जे के प्याज को थोक में 35 से 38 रुपए किलो का दाम मिला. जबकि 1 नंबर के प्यार को 30 से 34 रुपए किलो में बेची गई.वहीं 2 नंबर की प्याज 25 से 29 रुपए किलो में बिकी. थोक मंडी में शनिवार को 3 नंबर की प्याज 20 से 24 रुपए किलो में बेची गई. जबकि 4 नंबर की प्याज 15 से 19 रुपए किलो में बेची गई. वहीं सबसे हल्की गुणवत्ता वाली प्याज को थोक में 5 से 14 रुपए किलो का दाम मिला.

आलू की कीमत में मामूली गिरावट 

वाशी एपीएमसी की आलू-प्याज की मंडी में आलू के दाम में मामूली गिरावट आई है. शनिवार को आलू- प्याज के मंडी में 35 गाड़ी आलू की आवक हुई. जबकि 10 गाड़ी आलू पहले की बैलेंस पड़ी हुई थी. शनिवार को यूपी से आई आलू को थोक में 25 से 29 रुपए किलो बेचा गया. वहीं महाराष्ट्र की आलू 17 से 27 रुपए किलो में बेची गई. जबकि मध्य प्रदेश की आलू को थोक में 20 से 29 रुपए किलो का दाम मिला. वहीं गुजरात से आई आलू थोक में 20 से 27 रुपए किलो बेची गई.