परिजनों के सुरक्षित होने की ईश्वर से प्रार्थना कर रहा पिता

  • इमारत हादसे में पूरा परिवार मलबे में दबा

भिवंडी. जिलानी इमारत में रहने वाला लातूर का 6 सदस्यों का पूरा परिवार इमारत जमींदोज होने से मलबे में दब गया है. घटना की सूचना मिलते ही पिता लातूर से ट्रक पर सवार होकर घटनास्थल पर पहुंचकर करीब 24 घण्टे से परिवार के सकुशल निकलने की प्रतीक्षा कर रहा है.

जानकारी के अनुसार लातूर जिला स्थित हल्ली तालुका उदगीर निवासी युसूफ मेहबूबसहाब शेख का लड़का  आरीफ( टेम्पो चालक) पत्नी नशमा व पुत्री निदा (5), सादिया ( 3 ) व पुत्र हसनेन (2) सहित परिवार के 5 सदस्य इमारत की पहली मंजिल पर भाड़े से रहते थे.आरिफ का भाई सोहेल (20) कॉलेज बंद होने की वजह से भाई के पास भिवंडी घूमने आया था. हादसे में परिवार के सभी सदस्य मलबे में दब गए हैं.

इमारत हादसे की जानकारी मिलते ही शोक मग्न पिता युसूफ शेख आनन-फानन में ट्रक पकड़ कर भिवंडी आ गया और पिछले 24 घंटों से इमारत के मलबे से परिजनों के सकुशल निकलने की आस जोह रहा है. युसूफ शेख मलबे से निकलते शव को देखकर अर्ध विक्षिप्त जैसा हो गया है. मलबे से किसी भी शव को बाहर निकलते देख कर युसूफ तेजी से दौड़ कर देखने पहुंच जाता है फिर गमगीन चेहरा लिए वापस आकर जमीन पर बैठ जाता है.