water supply

    ठाणे. ठाणे शहर (Thane City) में रहने वाले नागरिकों ने यदि 31 मार्च तक पानी बिल (Water Bill) का भुगतान (Payment) नहीं किया तो एक अप्रैल से बड़े स्तर पर अभियान चलाकर उनके नलों के कनेक्शन को (Taps Connections) खंडित किए जाने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। यह चेतावनी मनपा कमिश्नर डॉ. विपिन शर्मा (Commissioner Dr. Vipin Sharma) ने दिया है। उल्लेखनीय है कि ठाणे महानगरपालिका (Thane Municipal Corporation) द्वारा वर्ष 2020-21 में संपत्ति और जल कर बकाएदारों से वसूली के लिए विशेष मुहीम चलाया जाएगा। संपत्ति और जल कर वसूली के लिए प्रभाग समिति स्तर पर दैनिक लक्ष्य निर्धारित किया गया है। 

    इसी क्रम में मनपा आयुक्त डॉ. विपिन शर्मा ने चेतावनी दी है कि जिन्होंने 31 मार्च तक जल कर का भुगतान नहीं किया, उनके नल कनेक्शनों को एक अप्रैल से खंडित करने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। इससे बचने के लिए उन्होंने नागरिकों से आवाहन किया है कि वे तय अवधि के भीतर जल कर का भुगतान करते हुए कार्रवाई से बचें।   

    2020 की तुलना में इस वर्ष 31 करोड़ की अधिक वसूली

    गौरतलब है कि ठाणे मनपा जलापूर्ति विभाग की तरफ से अब तक 154 करोड़ रुपए की वसूली पानी बिल के रूप में की गई है और तकरीबन 5500 लोगों का नल कनेक्शन बिल नहीं भरने के कारण खंडित किया जा चुका हैं। हालांकि मनपा जलापूर्ति विभाग पानी का बिल न भरने वालों के लिए पहले से सख्त हैं। यही कारण हैं कि जलापूर्ति विभाग ने बिल न देने वालों के खिलाफ कार्रवाई शुरू रखी थी, वह धीमी थी। जलापूर्ति विभाग द्वारा विभाग की टीम ने कई क्षेत्रों में जांच की और इस दौरान 5433 नल कनेक्शन काटे गए।  ठाणे जलापूर्ति विभाग के कार्यकारी अभियन्ता विनोद पवार ने बताया कि सभी प्रभाग समितियों में मुनादी कराकर नागरिकों को टैक्स जमा करने की अपील की जा रही है। हालांकि मुनादी का असर यह हुआ कि अब के 10 लाख 42 हजार 624 लोगों से अब तक एक 154 करोड़ 16 लाख 19 हजार 665 रुपए की वसूली की गई हैं। जिसमें 929344 घरेलू ग्राहकों से 134 करोड़ 52 लाख 96 हजार 283 रुपए और 113280 व्यवसायिक ग्राहकों सर 10 करोड़ 21 लाख 13 हजार 526 और अन्य लोगों से 9 करोड़ 82 लाख 9 हजार 856 रुपए की वसूली की है। जोकि वर्ष 2020 में 29 मार्च तक 123 करोड़ 07 लाख 52 हजार 509 रुपए था। जो पिछले वर्ष की तुलना में करीब 31 करोड़ 08 लाख 67 हजार 156 रुपए की अधिक वसूली हुई है।   

    दंड की रकम में छूट के लिए सिर्फ दो दिन शेष

    कर में छूट का अब बस दो दिन ही शेष है। यही वजह है कि कर भुगतान सेंटर में लोगों की बड़ी संख्या में भीड़ उमड़ेगी। इसे देखते हुए मनपा की तरफ से अतिरिक्त व्यवस्था की गई है। मनपा ने उपभोक्ताओं को ऑनलाइन भुगतान की भी सुविधा दी है। इसके लिए हर उपभोक्ताओं के मोबाइल पर जानकारी भेजी जा रही है। इसलिए मनपा कमिश्नर डॉ. विपिन शर्मा ने भी पानी उपभोक्ताओं से इस छूट का लाभ लेने और नल कनेक्शन खंडित होने से बचने के लिए 31 मार्च तक अपने बिलों का भुगतान करने की अपील की हैं।