बगैर अनुमति के पेड़ काटने वालों पर मनपा दर्ज कराएगी FIR

  • पेड़ काटने से पहले अनुमति लेना अनिवार्य

नवी मुंबई. पर्यावरण के संतुलन को बनाए रखने में पेड़ों की अहम भूमिका होती है. इसलिए पर्यावरण को होने वाले नुकसान को टालने के लिए पेड़ों की कटाई को रोकना अत्यावश्य है, जिसकी ओर विशेष ध्यान देते हुए नवी मुंबई के मनपा आयुक्त ने मनपा के तहत आनेवाले क्षेत्रों में पेड़ों की छटाई व कटाई करने से पहले मनपा के वृक्ष प्राधिकरण की अनुमति लेना अनिवार्य किया है. इस मामले में जो लोग बगैर अनुमति के पेड़ों की कटाई करेंगे. उनके खिलाफ अब मनपा एफआईआर दर्ज कराएगी. ऐसा निर्णय मनपा आयुक्त ने लिया है.  

गौरतलब है कि मनपा के क्षेत्र में अक्सर अवैध रुप से पेड़ों की छटाई व कटाई की घटना प्रकाश में आते रहती है.इस तरह के मामलों में पहले मनपा के वृक्ष प्राधिकरण के द्वारा गैर अपराधिक मामला दर्ज कराया जाता था.जिसकी वजह से लोग वृक्षों की छटाई व कटाई का काम बेखौफ होकर कर रहे थे.जिसे गंभीरता से लेते हुए मनपा आयुक्त अभिजीत बांगर ने अब बगैर मनपा के वृक्ष प्राधिकरण की अनुमति के पेड़ों को काटने वालों पर एफआईआर दर्ज कराने का फैसला किया है. इसके बारे में उन्होंने नवी मुंबई के पुलिस आयुक्त को पत्र देकर इस पर सभी पुलिस स्टेशनों में अमल कराने के लिए आग्रह किया है.

प्रभारी बगीचा अधिकारी को सौंपी गई है जिम्मेदारी

मनपा के वृक्ष प्राधिकरण की अनुमति के बगैर मनपा के क्षेत्र में पेड़ काटने वालों के खिलाफ स्थानीय पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज कराने की हिदायत मनपा आयुक्त अभिजीत बांगर ने दी है.इसके साथ ही इस मामले में मनपा के परिमंडल-1 व 2 के प्रभारी बगीचा अधिकारी को मनपा के कानूनी विभाग के वकील के माध्यम से इसके बारे में दोषियों के खिलाफ कोर्ट में अपना पक्ष रखने की जिम्मेदारी सौंपी है.