एपीएमसी पर ध्यान दो वर्ना फूटेगा कोरोना बम

MLA गणेश नाईक का मनपा आयुक्त को अल्टीमेटम

नवी मुंबई. पूर्व मंत्री व भाजपा विधायक गणेश नाईक ने मनपा आयुक्त अभिजीत बांगर से आज फिर मुलाकात की और अपनी पिछली मांगों पर चर्चा करते हुए क्या कार्यवाही हुई उसका जवाब मांगा. बता दें कि गणेश नाईक कोविड सेंटर में वेटिंलेटर, चिकित्सा सुविधा, आरोग्य कर्मियों को सुरक्षा कवच, छात्रों को मिडडे मिल और छात्रवृत्ति देने जैसी तमाम मांग करते आ रहे हैं. इस पर मनपा आयुक्त द्वारा कार्यवाही किए जाने पर पूर्वमंत्री गणेश नाईक ने संतोष जताया.  वाशी हॉस्पिटल को कोविड फ्री करने को सही पहल बताते हुए उन्होंने कोरोना उपचार व्यवस्था को और मजबूत करने पर जोर दिया.

अनियंत्रित भीड़, सोशल डिस्टेंसिंग का मजाक

विधायक गणेश नाईक ने एपीएमसी पर आयुक्त का ध्यान दिलाते हुए जोर दिया कि मंडियों से कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा है. भाजपा विधायक गणेश नाईक ने कहा कि एपीएमसी मंडियों में विशेष सावधानी बरतने की जरूरत है यदि एपीएमसी की भीड़, सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन एवं कोविड जांच पर अधिक ध्यान नहीं दिया गया तो मंडी से कोरोना बम फूट सकता है. उन्होंने आयुक्त को एपीएमसी सचिव के साथ समन्वय स्थापित कर संक्रमण रोकने तत्काल ठोस कदम उठाने का आव्हान किया.

33 हजार के पार पहुंचा कोरोना

बताते चलें कि नवी मुंबई में कोरोना मरीजों की संख्या 33 हजार के पार पहुंच गयी है. कोरोना उपचार के लिए डाक्टर्स और वेंटिलेटर कम पड़ने लगे हैं ऐसे में लोकनेता गणेश नाईक बीते 3 महीने से लगातार मनपा आयुक्त से मुलाकात कर आरोग्य सेवाओं को मजबूत करने पर जोर दे रहे हैं. उनकी मुलाकात और मांगों का ही असर ये है कि नवी मुंबई के कई ठिकानों पर नए कोविड केयर सेंटर बन गए हैं साथ ही आक्सीजन बेड और औषधियां उपलब्ध होने लगी हैं जो नवी मुंबईकरों के लिए बड़ी राहत है.