कार को किराए पर लागाने के नाम पर ठगी

  • पुलिस ने बरामद की 20 कार, 5 आरोपी गिरफ्तार

नवी मुंबई. कार मालिकों की कार को बड़ी कंपनियों में किराए पर लगाने का झांसा देकर उनकी कार को अन्य राज्यों में बेचने वाले 5 आरोपियों को नवी मुंबई पुलिस की मध्यवर्ती पुलिस की अपराध शाखा ने गिरफ्तार किया है. इनके पास से पुलिस ने 20 कार बरामद किया है, जिसकी कीमत 2 करोड़ 2 लाख रुपए बताई गई है.

नवी मुंबई के पुलिस आयुक्त विपिन कुमार सिंह ने मीडिया को बताया कि उक्त मामले में सत्यप्रकाश मिठाईलाल वर्मा उर्फ बाबू (30), आशिष गंगाराम पुजारी (32), अयान उर्फ राहुल उर्फ एन्थोनी पॉल छेत्तियर (38), मोहम्मद वासीम मोहम्मद फरीद शेख (33) और जावेद अब्दुलसत्तार शेख उर्फ मामा (46) को गिरफ्तार किया गया है. इन सभी आरोपियों ने नेरुल में ट्रैवेल्स पॉइंट नामक कंपनी खोली थी. जिसके माध्यम से कार मालिकों की कार को बड़ी कंपनियों में किराए पर लगाने का झांसा दिया करते थे. इसके बाद कार मालिक की कार को दूसरे राज्यों में बेचकर उससे मिले रुपए को खुद हजम कर लेते थे.

कई इलाकों में शुरू किया था कार्यालय

नवी मुंबई के पुलिस आयुक्त विपिन कुमार सिंह ने मीडिया को बताया की नवी मुंबई पुलिस की अपराध शाखा के हाथ लगे इन आरोपियों ने कई ठिकानों पर अपने कार्यालय खोले थे. अपराध शाखा के द्वारा की गई छानबीन से पता चला है कि इन लोगों ने कार को किराए पर देने के लिए इच्छुक सैकड़ों लोगों को इस तरह से चूना लगाया है. जिन लोगों के साथ इस तरह की ठगी हुई है. वे नवी मुंबई पुलिस की मध्यवर्ती पुलिस की अपराध शाखा से संपर्क कर सकते हैं.