Money kept in credit society will now be safe

  • सांसद शिंदे ने की कोशिश

अंबरनाथ. अंबरनाथ व उल्हासनगर की सीमा पर स्थित प्राचीन शिवमंदिर के सुशोभिकरण व परिसर के विकास के लिए राज्य सरकार के नगर विकास मंत्रालय ने 43  करोड़ रुपए की निधि मंजूर की है. सरकार की इस निधि से अब मंदिर परिसर में बड़े धार्मिक स्थलों की तरह श्रद्धालुओं को अच्छी सुविधा मुहैया होगी व इससे अन्य शहरों व राज्यों से भी श्रद्धालु व पर्यटक अंबरनाथ आएंगे.  सांसद श्रीकांत शिंदे द्वारा निरंतर किए गए प्रयासों का यह परिणाम है. 

डॉ. शिंदे ने शहरी विकास मंत्री और ठाणे जिले के पालकमंत्री एकनाथ शिंदे को धनराशि मंजूर करने के लिए धन्यवाद दिया है. उन्होंने शिव मंदिर के विकास के लिए विशेष योगदान के लिए अंबरनाथ के शिवसेना शहर प्रमुख अरविंद वालेकर, विधायक बालाजी किणीकर, सुनील चौधरी और सभी शिवसैनिकों और अंबरनाथवासियों का भी आभार माना है.

2014 में पहली बार कल्याण लोकसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते ही सांसद श्रीकांत शिंदे ने अबंरनाथ स्थित प्राचीन शिवमंदिर के विकास के लिए अथक प्रयास शुरू कर दिया था. श्रीकांत शिंदे ने फाउंडेशन के माध्यम से 4 साल पहले अंबरनाथ में कला महोत्सव का भी भव्य पैमाने पर आयोजन शुरू किया.  मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे भी अंबरनाथ आर्ट फेस्टिवल में शामिल हुए हैं. 

पहले चरण में 20 करोड़ रुपए और दूसरे चरण में 23 करोड़ रुपए की लागत से अंबरनाथ के शिवमंदिर को दो चरणों में विकसित किया जाएगा. प्रवेश द्वार और कमानी का निर्माण, आरक्षण संख्या 171 में बस स्टॉप विकसित करना,  जंतर मंतर पार्क और दर्शनीय क्षेत्र को सुशोभित किया जाएगा.  इस स्थान पर एक भव्य पार्किंग व्यवस्था स्थापित की जाएगी. वालधुनी नदी का संरक्षण किया जाएगा. साथ ही मंदिर और उसके पास के दो पुलों का निर्माण किया जाएगा. इसी तरह परिसर में दर्शनार्थियों व पर्यटकों को रुकने की व्यवस्था, पोवेलियन, सुंदर बगीचा, कैफेटेरिया इस परिसर के हिस्सा होंगे.