कचरा चुनने वालों ने किया चक्का जाम

  • रोजी रोटी पर खतरा मंडराने से आक्रोश

कल्याण. कचरा चुनकर जीवन यापन करने वाले सैकड़ों लोगों ने आधारवाड़ी स्थित डंपिंग ग्राउंड के पास जमकर आंदोलन किया, जिससे कुछ देर के लिए कचरा ढोने वाली गाड़ियों की लाइन लग गई. कचरा चुनने वाली महिलाओं ने कहा कि डंपिंग ग्राउंड में कचरा कम आने की वजह से उनकी रोजी-रोटी की समस्या उत्पन्न हो गई है।

बता दें कि कल्याण मनपा प्रशासन ने अप्रैल महीने से शहर में गीला कचरा (Wet waste) और सूखा कचरा (dry waste) अलग-अलग करने का प्रावधान बनाया है. महानगरपालिका को इस मुहिम का अच्छा प्रतिसाद भी मिला है, इतना ही नहीं सूखा और गीला कचरा अलग अलग करने से डंपिंग ग्राउंड पर लोड भी कम पड़ा है और खाद आदि का उपयोग भी हो रहा है। सोमवार को कचरा वालों का आंदोलन उग्र होता देख मौके पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया.

बातचीत के बाद आंदोलनकारियों को काफी शांत किया गया. उनका कहना था कि हम लोगों के सामने भुखमरी की नौबत आ गई है, इसलिए वर्गीकरण यानी गीला और सूखा कचरा अलग-अलग करने का काम उन्हें ही दिया जाए। पुलिस और मनपा अधिकारियों के समझाने और कमिश्नर से मुलाकात का आश्वासन देने के बाद कचरा वालों ने आंदोलन वापस लिया।