Huge crowds in the markets during unlock in Bhiwandi

    भिवंडी. अनलॉक (Unlock) के दौरान भिवंडी शहर (Bhiwandi City) में नागरिक कोरोना नियंत्रण के दिशा-निर्देशों की खुलेआम धज्जियां उड़ा रहे हैं। शहर के प्रमुख बाजारों में कोरोना दिशा-निर्देशों का उल्लंघन कर हो रही भीड़ की वजह से आगामी दिनों में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) का भारी खतरे से इंकार नहीं किया जा सकता है। भिवंडी महानगरपालिका प्रशासन (Bhiwandi Municipal Administration) और पुलिस विभाग (Police Department) की ढ़िलाई की वजह से शहर के नागरिक बेहद लापरवाह होकर शासन के निर्देशों का खुल्लम-खुल्ला उल्लंघन कर रहे हैं।

    गौरतलब है कि भिवंडी शहर में कोरोना का ग्राफ बेहद तेजी से कम हो रहा है। शहर में प्रतिदिन 1-5  कोरोना संक्रमित मरीज ही पाए जा रहे हैं। महानगरपालिका प्रशासन और पुलिस विभाग की संयुक्त मेहनत से शहर वासियों को कोरोना महामारी से निजात मिलने की आस जगी है, बावजूद अनलॉक के दौरान शहर के तमाम सब्जी मार्केट और प्रमुख बाजार तीन बत्ती, मंडई, कामतघर, पद्मा नगर, शांतिनगर, गुलजार नगर, गायत्री नगर, अंजुर फाटा, भंडारी कंपाउंड, दरगाह रोड आदि क्षेत्रों में सुबह से देर रात तक ग्राहकों की भारी भीड़ बाजारों- दुकानों में दिखाई पड़ रही है। महानगरपालिका प्रशासन और पुलिस विभाग द्वारा अनलॉक नियमों को लेकर कोई कड़ाई नहीं बरते जानें की वजह से दुकानदारों और नागरिकों के हौंसले बुलंदी पर हैं। 

    महानगरपालिका प्रशासन की अपील बेअसर

    अनलॉक के दौरान महानगरपालिका प्रशासन द्वारा शहरवासियों से बार-बार कोरोना निर्देशों के अनुपालन की अपील किए जाने का कोई भी सार्थक असर नहीं दिखाई पड़ रहा है। सब्जी मार्केट, तीन बत्ती, मंडई सहित तमाम प्रमुख बाजारों में तमाम नागरिक बगैर मास्क लगाए और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों की धज्जियां उड़ाते देखे जा रहे हैं। जिलाधिकारी राजेश नार्वेकर द्वारा भिवंडी में कोरोना के घटते मामलों की वजह से भिवंडी को-3 लेवल में रखा गया है। अनलॉक के दौरान मनपा प्रशासन द्वारा इमरजेंसी सेवाओं को छोड़कर शहर स्थित समस्त दुकानों को सुबह 7 बजे से शाम 4 बजे तक खोलने की मंजूरी प्रदान किए जाने के उपरांत निर्देशों का उल्लंघन कर अधिकतर दुकानें और व्यापारिक प्रतिष्ठान रात 10 बजे तक खुले देखे जा रहे हैं। भिवंडी में कोरोना नियंत्रण निर्देशों की धज्जियां नागरिक उड़ा रहे हैं।

    लापरवाह शहरवासी तीसरी लहर को दे रहे न्योता

    शहर के नागरिक समाजसेवी लाल, मो. अंसारी, विनय सिंह, दिलीप धुमाल, बिंदेश्वरी शुक्ला आदि का मानना है कि भिवंडी शहर में कोरोना का ग्राफ कम जरूर हुआ है, लेकिन खात्म नहीं हुआ। अनलॉक के दौरान कोरोना नियंत्रण के दिशा-निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन होने पर आगामी दिनों में कोरोना महामारी से निजात मिल सकती थी. बावजूद इसके लोगों की लापरवाही से भिवंडी में कोरोना महामारी की तीसरी लहर आने से कोई रोक नहीं सकता है।

    नागरिकों की लापरवाही घातक हो सकती है

    उक्त संदर्भ में महानगरपालिका कमिश्नर डॉ. पंकज आसिया शहरवासियों से आह्वान करते हुए कहा कि जीवन सुरक्षा बेहद जरूरी है। अनलॉक के दौरान शासन के निर्देशों का पालन बेहद जरूरी है। नागरिकों की लापरवाही घातक हो सकती है। शहरवासियों को कोरोना निर्देशों का पालन अवश्य करना चाहिए अन्यथा महानगरपालिका प्रशासन को सख्त कदम उठाना पड़ेगा।