In Kalyan circle, electricity supply of 70 thousand 686 customers who did not pay bills was cut, due

    उल्हासनगर. महावितरण (Mahavitaran) के कल्याण मंडल (Kalyan Mandal) में बकाया बिजली बिलों (Electricity Bills) का भुगतान न करने के कारण 70 हजार 686 ग्राहकों की बिजली आपूर्ति अस्थायी रूप से काट दी गई है। इन ग्राहकों (Customers) पर 105 करोड़ रुपए का बकाया है और उनकी बिजली आपूर्ति चालू बिजली बिल के साथ बकाया और पुन: कनेक्शन शुल्क का भुगतान करने के बाद ही बहाल की जा सकती है।

    कल्याण परिमंडल के 7 लाख 83 हजार उपभोक्ताओं पर मार्च 2021 तक 402 करोड़ रुपए का बिजली बिल बकाया है। इसके अलावा अप्रैल से जून 2021 तक के तीन माह का बकाया 142 करोड़ रुपए पहुंच गया है। कल्याण  परिमंडल के मुख्य अभियंता दिनेश अग्रवाल ने अपील की है कि वर्तमान में महावितरण की वित्तीय स्थिति गंभीर है और बिजली उपभोक्ताओं को वर्तमान बिजली बिल के साथ बकाया भुगतान  करना चाहिए और निर्बाध बिजली आपूर्ति का लाभ उठाना चाहिए।

    महावितरण के जनसंपर्क अधिकारी विजय सिंग दूधभाते द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार कल्याण मंडल के डोंबिवली में 8,771 ग्राहक  पर 7 करोड़ 7 लाख बकाया है, ठाणे जिले के कल्याण 2 हल्कों सहित उल्हासनगर में 14,923 ग्राहक से 49 करोड़ आना बाकी है। वसई और विरार में सबसे अधिक 27 हजार 527 ग्राहकों पर 28 करोड़ 33 लाख बकाया है। बिजली की आपूर्ति पालघर जिले में वसई मंडल कार्यालय और 19 हजार 465 ग्राहक पर  (वसई और विरार संभाग को छोड़कर) 20 करोड़ 74 लाख बाकी है। इन घरेलू, वाणिज्यिक और औद्योगिक कम दबाव वाले ग्राहकों ने नवंबर 2020 से बिजली बिल का एक रुपया भी भुगतान नहीं किया है। इसके चलते उनकी बिजली आपूर्ति ठप हो गई है।

    क्षेत्र में घरेलू, वाणिज्यिक और औद्योगिक के साथ-साथ सार्वजनिक सेवाओं में बकाया ग्राहकों को बिजली आपूर्ति में कटौती करने के लिए अभियान तेज कर दिया गया है। किसी भी असुविधा से बचने के लिए मुख्य अभियंता अग्रवाल ने महावितरण से मिलने वाली सुविधाओं का लाभ उठाकर वर्तमान और अतिदेय बिजली बिलों का भुगतान करने की अपील की है।