मनपा कर्मचारियों ने की 25 हजार रुपए बोनस की मांग

  • म्युनिसिपल लेबर यूनियन ने की मनपा आयुक्त से मांग

ठाणे. ठाणे महानगर पालिका के कर्मचारी और अधिकारियों को इस वर्ष दीवाली बोनस (सानुग्रह अनुदान) 25 हजार रुपए चाहिए, वह 15 दिनों पहले भुगतान करने की मांग भरा पत्र म्युनिसिपल लेबर यूनियन ने मनपा आयुक्त डॉ. विपिन शर्मा से की है. 

आपको बता दें कि पिछले वर्ष ठाणे मनपा ने अन्य महानगर पालिकाओं की तुलना सर्वाधिक 11 हजार 500 रुपये सानुग्रह अनुदान दिया गया था. लेकिन इस बार कोरोना के संक्रमण काल में जहाँ मनपा की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है और तिजोरी खाली पड़ी है. ऐसे में मनपा कितना दीवाली बोनस देगी यह तो आने वाला वक्त में पता चलने वाला है. 

ठाणे महानगर पालिका की सेवा में सभी कामगार, अधिकारी, कर्मचारी सहित प्रतिनियुक्ति पर आने वाले अधिकारी, बालवाड़ी के कर्मचारी, शिक्षण विभाग के सभी कर्मचारियों को 25 हजार रुपए का दीवाली बोनस (सानुग्रह अनुदान) देने और 15 दिन पूर्व इसकी अदायगी करने की मांग यूनियन ने किया है. साथ ही यूनियन ने आयुक्त को दिए पत्र में इनके आलावा ठाणे महानगर पालिका क्षेत्र में विभिन्न ठेकेदारों द्वारा कार्यरत छत्रपति शिवाजी महाराज अस्पताल, घटांगाडी, रास्ता साफ सफाई, फायलेरीया, शिक्षण विभाग, मलनिसारण विभाग, पानी विभाग, सैटिस साफ सफाई, उद्यान विभाग, स्मशान भूमि सहित अन्य विभिन्न विभागों में काम करने वाले सभी ठेका कामगारों को भी दिवलो बोनस देने की मांग यूनियन ने करते हुए कामगारों को दिए जाने वाले एक माह का वेतन के बराबर देने की मांग भी किया है. 

मनपा की आर्थिक हालत ख़राब 

वैसे देखा जाए तो पिछले सात महीनों से शहर में कोरोना का संक्रमण बढ़ा है. सभी आर्थिक व्यवहार तक़रीबन ठप्प है. जिसके असर मनपा के आर्थिक उत्पन्न पर भी पड़ा है और वह घट गया है. मनपा प्रशासन ने जहाँ कई बड़े प्रकल्पो को बंद कर जो अत्यावश्यक प्रकल्प है वहीं शुरू रखा है. इसके आलावा ठेकेदारों को भी 50 फीसदी बिल ही दिया जा रहा है. ऐसी परिस्थिति में मनपा प्रशासन अपने कर्मचारियों की इस वर्ष का सानुग्रह अनुदान देगी की नहीं इस पर प्रश्न खड़ा हो रहा है. बहरहाल मनपा सूत्रों की माने तो अगले माह में इस संदर्भ में सर्वदलीय बैठक मनपा आयुक्त महापौर के अगुवाई में ले सकते है. जिसके बाद ही अंतिम निर्णय लिए जाने की संभावना है.