मनसे पदाधिकारी जमील शेख के हत्यारे का नहीं लगा सुराग

  • 2014 में भी हुआ था मृतक जमील पर जानलेवा हमला

ठाणे. ठाणे पुलिस को मनसे पदाधिकारी जमील शेख के हत्यारे का कोई सुराग अब तक नहीं लग पाया है. घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई है, लेकिन इसके बावजूद हत्यारे तक पहुंचना पुलिस के लिए अभी टेढ़ी खीर बना हुआ है. 

जमील शेख के भतीजे फैसल तुफैल शेख ने पुलिस को दी शिकायत में बताया है कि उसके चाचा पर साल 2014 में भी जानलेवा हमला हुआ था और राबोडी पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज है. फैसल के मुताबिक शिकायत में जमील ने नगरसेवक पर ही आरोप लगाया था और उसे आरोपी बनाने की मांग की थी. फैसल के अनुसार उसके चाचा नगरसेवक द्वारा किये गए अवैध निर्माण के खिलाफ थे और उसकी जानकारी वे आरटीआई से लेते थे. इसलिए नगरसेवक ने ही चाचा को रास्ते से हटाने की योजना बनाई, यह प्रबल संभावना है. घटना को लेकर वरिष्ठ अधिकारियों से संपर्क किया गया, लेकिन सभी मामले में कुछ कहने से बचते रहे और उनका कहना था कि अभी छानबीन शुरू है. 

बता दें कि ठाणे शहर के राबोडी में रहने वाला 49 वर्षीय जमील शेख सोमवार दोपहर करीब दो बजे मोटरसाइकिल पर सवार हो कहीं जा रहा था. उसी समय घात लगाए और मोटरसाइकिल पर आये हत्यारे ने जमील को पीछे से गोली मारी थी और भाग खड़े हुए थे. गंभीर जख्मी जमील को भतीजे फैसल ने एक स्थानीय युवक की मदद से एक निजी अस्पताल में पहुंचाया था, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित किया था. दिनदहाड़े हुई वारदात के चलते शहर में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर चर्चा जोरों पर शुरू हो गयी है, वहीं परिसर में पुलिस का बंदोबस्त लगाया गया है. सीनियर पीआई राजेंद्र शिरतोड़े की अगुवाई में मामले की छानबीन कर रहे हैं. शिरतोड़े का कहना है की जल्द ही हत्यारे को पकड़ लिया जायेगा.     

जमील शेख हत्या मामले में मुख्य सूत्रधार की जल्द हो खोज : प्रवीण दरेकर

समाजसेवक व मनसे कार्यकर्ता जमील शेख की हत्या प्रकरण में आरोपियों को और मुख्य सूत्रधार जल्द ही गिरफ्तार करने की विनंती विधान परिषद के विरोधी पक्षनेता प्रवीण दरेकर ने ठाणे के पुलिस आयुक्त विवेक फणसलकर से की. दरेकर ठाणे में कानून व व्यवस्था को के साथ-साथ शांति बनाएं रखने के लिए पुलिस आयुक्त विवेक फणसलकर से फोन पर संपर्क कर मामले की गुत्थी जल्द सुलझाने की मांग की. 

परिजनों से मिले ठाणे भाजपा अध्यक्ष निरंजन डावखरे 

मनसे कार्यकर्ता जमील शेख की हत्या मामले में मंगलवार को ठाणे भाजपा अध्यक्ष व कोकण स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के विधायक निरंजन डावखरे ने मृतक के परिजनों से मुलाकात की और सांत्वना दी. इस दौरान ने मृतक जमील शेख के परिवार वालों को इस मामले की गहनता से जांच कराने और आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने के लिए पुलिस के साथ पत्र व्यवहार करने और अन्य मदद का आश्वासन भी दिया.