महापौर का अपमान कदापि बर्दाश्त नहीं बर्दाश्त नहीं

 महिलाओं ने किया एमआईएम जिलाध्यक्ष का निषेध

 भिवंडी. भिवंडी मनपा महापौर द्वारा कोरोना महामारी प्रसार को रोकने हेतु 15 दिनों का किए गए कंटेनमेंट जोन के विरोध में एमआई एम जिलाध्यक्ष शेख खालिद गुड्डू द्वारा 2 दिन पूर्व वीडियो जारी कर भिवंडी मनपा महापौर प्रतिभा विलास पाटिल को रबर स्टैम्प करार दिए जाने का मामला तूल पकड़ रहा है. शिवाजी चौक पर दर्जनों महिलाओं ने एकजुट होकर एमआईएम जिलाध्यक्ष गुड्डू का फोटो दहन कर निषेध आंदोलन किया एवम कहा कि महापौर शहर का प्रथम नागरिक होता है. भिवंडी की महापौर प्रतिभा विलास पाटिल एक सम्मानित महिला है. महापौर का अपमान कदापि बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

गौरतलब हो कि 2 दिन पूर्व 

एमआईएम जिलाध्यक्ष शेख खालिद गुड्डू ने महापौर प्रतिभा पाटिल को कन्टोन्मेंट जोन घोषित किये जाने पर नाराजगी जताते हुए केवल रबर स्टांप करार दिया था.उ क्त वीडियो वायरल होने पर आक्रोशित महिलाओं ने शिवाजी चौक पर 

एमआईएम जिलाध्यक्ष गुड्डू का निषेध कर छायाचित्र दहन किया एवं शहर के प्रथम नागरिक महापौर का अपमान करने वाले के ऊपर पुलिस में आपराधिक दर्ज मामला दर्ज किए जाने की मांग की है.उक्त मौके पर भाजपा नेता सुनंदा टावरे, कल्पना शर्मा,मनिषा भांगरे,गीता चौधरी, शाजिया रिजवान सिद्दीकी आदि दर्जनों महिलाएं मौजूद रहकर एमआईएम जिलाध्यक्ष शेख खालिद गुड्डू मुर्दाबाद के नारे लगाए गए.