अब प्याज ने शुरू किया रुलाना, थोक में बिकी 15 से 60 रुपए किलो

नवी मुंबई. वाशी स्थित एपीएमसी की आलू-प्याज की मंड़ी में आवक बढ़ने के बावजूद थोक में प्याज के दाम में भारी वृध्दि होने का सिलसिला जारी है, जिसकी वजह से अब प्याज ने आम आदमी को रूलाना शुरू कर दिया है. शनिवार को थोक में सबसे हल्के दर्जे की प्याज जहां थोक में 15 से 22 रुपए किलो बिकी.वहीं वीआईपी दर्जे की प्याज 55 से 60 रुपए किलो बेची गई, जिसका असर अन्य गुणवत्ता वाली प्याज के दाम पर भी पड़ा है.

एपीएमसी की आलू-प्याज की मंडी में थोक में कारोबार कर रहे मनोहर तोतलानी के अनुसार शनिवार को मंडी में 80 गाडियों में 12 हजार 789 बोरी प्याज की आवक हुई, जिसमें नई प्याज का समावेश है. इसके बावजूद भी प्याज के दाम में वृध्दि हुई है.तोतलानी ने बताया कि शनिवार को 1 नंबर की प्याज 45 से 55 रुपए किलो में बिकी. जबकि 2 नंबर की प्याज को 38 से 44 रुपए का दाम मिला है. वहीं 3 नंबर की प्याज 30 से 37 रुपए किलो बेची गई, जबकि 4 नंबर की प्याज को 23 से 29 रुपए किलो का दाम मिला.

 नई प्याज ने संभाला है मोर्चा

तोतलानी का कहना है कि मौजूदा समय में मंडी में अच्छी गुणवत्ता वाली प्याज की आवक कम हो रही है.जिसकी वजह से कम दर्जे वली प्याज को खरीददार मिल रहे है.अगर मंडी में नई प्याज की आवक शुरू नहीं हुई होती तो अब तक थोक में प्याज का दाम 100 रुपए किलो तक पहुंच गया होता. मौजूदा समय में मंडी में 10 से 15 गाड़ी नई प्याज की आवक हो रही है. जिसे थोक में 15 से 45 रुपए तक का दाम मिल रहा है. दीपावली तक प्याज के दाम में उतार-चढ़ाव होने का सिलसिला जारी रहेगा.