Ring Binder with inscription Investigations on Background of Working Table with Office Supplies, Glasses, Reports. Toned Illustration. Business Concept on Blurred Background.
Ring Binder with inscription Investigations on Background of Working Table with Office Supplies, Glasses, Reports. Toned Illustration. Business Concept on Blurred Background.

द्वारा हिसाब में अनियमितता का मामला

उपनिबंधक कार्यालय के माध्यम से होगी जांच 

अंबरनाथ. अंबरनाथ पूर्व में शिवमंदिर रोड के खेर सेक्शन परिसर स्थित मोहन ज्योत हाउसिंग सोसायटी के कुछ पदाधिकारियों द्वारा अपने पद का दुरुयोग करते हुए सोसायटी के माध्यम से अपने स्वार्थ के लिए बरती गई अनियमितताओं की जांच करने का आदेश सहायक निबंधक ने दिया है. 

मोहन ज्योत सोसायटी में रहने वाले भास्कर पाटिल, अशोक जयनानी एवं गोमती ओड़ियार ने सोसायटी के कुछ पदाधिकारियों के खिलाफ 2 दिसंबर 2019 को एक पत्र तत्कालीन मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, जिला व अंबरनाथ के सहायक निबंधक को भेजकर सोसायटी में बड़े पैमाने पर जारी अनियमितताओं की शिकायत की थी. अपने 

पत्र में पाटिल, जयनानी व ओड़ियार ने उक्त सोसायटी के  वर्ष 2017- 18 व 2018- 19 में पदाधिकारियों द्वारा हिसाब में की गई हेराफेरी की शिकायत सबूतों के आधार पर की थी. स्थानीय स्तर पर संबंधित महकमे द्वारा शिकायत पर कोई ध्यान न दिए जाने के बाद इन फ्लैट धारकों ने अंबरनाथ के विधायक डॉ. बालाजी किणीकर से प्रत्यक्ष मुलाकात कर उन्हें हकीकत से अवगत कराया. उसके बाद विधायक किणीकर ने  29 जनवरी 2020 को राज्य के सहकारमंत्री बालासाहेब पाटिल से पत्र व्यवहार कर उक्त मामले की जांच कराए जाने की मांग की. मंत्री महोदय को भेजे पत्र में विधायक किणीकर ने यह भी आरोप लगाया की शिकायत के बावजूद अंबरनाथ कार्यालय द्वारा कोई जांच नहीं की गई है.

विधायक ने अनियमिता करने वालों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज कराने का आग्रह भी किया था. विधायक की मांग पर मंत्री महोदय ने जांच कराने के आदेश ठाणे के जिला उप निबंधक को दिए. संबंधितों पर जाली बिल प्रस्तुत कर पैसे निकालना, बैंक से परस्पर रकम निकालने, चेक पर नकली हस्ताक्षर करना, गृहनिर्माण सोसायटी के कामकाज से जुड़े नियमों की अनदेखी कर मनमानी काम करना आदि आरोप है.

मोहन ज्योत गृहनिर्माण सोसायटी के निलंबित सचिव तथा सोसायटी के पदाधिकारियों के खिलाफ महाराष्ट्र सहकारी संस्था अधिनियम 83 के तहत जांच के आदेश अंबरनाथ सहकारी संस्था सहायक निबंधक ने दिए है. बताया जा रहा है कि शहर में किसी गृहनिर्माण सोसायटी के पदाधिकारियों की जांच के आदेश विभाग द्वारा दिए जाने का अंबरनाथ में यह पहला है. जांच के दायरे में मोहन ज्योत हाउसिंग सोसायटी के पदाधिकारी किसन दुसेजा, घनश्याम लुंड, महेश वाधवा का नाम है वही शिकायत कर्ता को दमदाटी देने में मामले में जीएस भुल्लर, विजय संगतानी, दिलीप खेतवानी का नाम है. सोसायटी के पदाधिकारी से प्रतिक्रिया के लिए कोशिश की लेकिन संपर्क नहीं हो सका.