कांटॅक्ट ट्रेसिंग, मरीजों के डिस्चार्ज को बढ़ाने का आदेश

ठाणे. ठाणे में कोरोना के संक्रमण को बढ़ते देख अब प्रशासन की चिंता बढ़ ही गई और पालकमंत्री एकनाथ शिंदे भी सकते में हैं. जिसे ध्यान में रखते हुए वे आजकल बैठक पर बैठकें ले रहे हैं. शुक्रवार को उन्होंने ने मनपा के नवनियुक्त आयुक्त डॉ. विपिन शर्मा के साथ सभी अधिकारियों की एक बैठक ली और इसमें उन्होंने ठाणे शहर में कांटॅक्ट ट्रेसिंग तथा मरीजों के डिस्चार्ज को बढ़ाने तथा मृत्यु की संख्या को रोकने का निर्देश मनपा प्रशासन को दिया है.

शिंदे ने आदेश दिया है की इसके लिए जो भी कदम उठाना पड़ें उसे मनपा प्रशासन करे और इसके लिए निधि की कमी नहीं होगी और साथ में आयुक्त को विश्वास दिलाया की सभी जनप्रतिनिधि उनके साथ हैं.  बैठक में कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर हॉटस्पॉट क्षेत्र में कार्यवाई को कड़क करने, मास स्क्रीनिंग और कांटॅक्ट ट्रेसिंग पर जोर देते हुए कोरोना टेस्टिंग को बढ़ाने तथा अधिक से अधिक लोगों को क्वारंटीन सेंटर में भेजने का निर्देश जिले के पालकमंत्री और नगरविकास मंत्री एकनाथ शिंदे ने दिया है.

पोखरण में वोल्टास कंपनी की जगह पर बनेगा एक और अस्थाई अस्पताल  

बैठक में बालकुम में ग्लोबल इम्पॅक्ट हब में बने कोविड अस्पताल की तर्ज पर पोखरण में वोल्टास कंपनी की खाली जगह पर सिडको की मदद से एक हजार बेड के नए अस्पताल का निर्माण किये जाने की घोषणा की गयी. इस अवसर पर क्वारन्टीन सेंटर्स सहित मनपा के कोविड अस्पताल में डॉक्टरों, नर्सों, वार्ड ब्वॉयज व अन्य कर्मचारियो की कमी पर चर्चा हुई. शिंदे का कहना है कि कोरोना विरोधी लड़ाई में वे लोग अपनी जान की बाजी लगा कर दूसरों की सेवा कर रहे हैं. इसलिए कमी को पूरा करने हेतु सभी को अधिक मानधन देने का निर्देश शिंदे ने दिया. शिंदे ने अधिक से अधिक परिसर को कंटेमेंट जोन जाहिर करने, वहां पुलिस की मदद से नियम कानून का कड़क पालन करने तथा उक्त परिसर में लोगो की आवाजाही पर लगाम लगाने का निर्देश दिया.  शिंदे ने दावा किया कि पिछले कारण सवा तीन माह के लॉकडाउन के चलते हजारो लोग संक्रमित होने से बचे और कईयों की जान बची है. 

लॉकडाउन के शिथिलता के दौरान सतर्कता की जरूरत 

शिंदे का कहना है कि हम कोरोना के महत्वपूर्ण चरण में है, लॉकडाउन को विभिन्न चरणों मे शिथिल किया जा रहा है इसलिए इस लड़ाई में और सतर्क होने की जरूरत है. शिंदे ने चेतावनी दी है कि इसको लेकर किसी लापरवाही को बर्दाश्त नही किया जाएगा. बैठक के बाद शिंदे ने आयुक्त शर्मा के साथ वोल्टास कंपनी परिसर का दौरा किया. इस दौरान उनके साथ सांसद राजन विचारे, विधायक प्रताप सरनाईक सहित अन्य अधिकारी और जन प्रतिनिधी मौजूद थे. निर्माणाधीन नए अस्पताल में भी बालकुम जैसी सभी सुविधा उपलब्ध होगी.