पनवेल शहर पुलिस का दस्ता सम्मानित

  • अपराधिक मामले की जांच में मिली सफलता

नवी मुंबई. कार के लिए अच्छा किराया दिलाने का झांसा देकर 4 लोगों ने 68 कार मलिकों के साथ धोखाघड़ी की थी.इस मामले की छानबीन कर के पनवेल शहर पुलिस ने इन आरोपियों को गिरफ्तार करके उनके पास से 68 कार को बरामद कर के उनके मालिकों को सौंपने का काम किया था.जिसके लिए पुलिस आयुक्त ने इस मामले का सफलतापूर्वक डिटेक्शन करने वाले पनवेल शहर पुलिस स्टेशन के दस्ते को सम्मानपत्र देकर सम्मानित किया.

 गौरतलब है कि कुछ माह पहले कार के मालिकों को अच्छा किराया दिलाने के नामपर रायगड़ जिले के रसायनी में रहने वाले सतीश पांडूरंग म्हस्कर,शाहरुख शहानवाज बेग ने आपने अन्य 2 साथियों के साथ मिलकर 68 लोगों की कार लिया था.लेकिन कार मालिकों को किराया नहीं दिलाया.इन लोगों ने सभी कार को गहन रखकर लाखों रुपए लिए थे.जिसकी शिकायत कार मालिकों ने पनवेल शहर पुलिस स्टेशन में की थी.

पुलिस के दस्ते ने सुराग लगाकर किया था गिरफ्तार

कार मालिकों के साथ हुई ठगी की इस घटना की छानबीन का जिम्मा पनवेल शहर पुलिस स्टेशन के पुलिस उपनिरीक्षक सुनील ताकमाले के दस्ते को सौंपा गया था, जिसने आरोपियों का सुराग लगाकर उन्हें गिरफ्तार किया था. इस मामले में आरोपियों ने कार मालिकों की कार को जिनके पास गहन रखा था. उनके पास से 68 कार को बरामद कर के उसे कार के मूल मालिकों को लौटाने का सराहनीय काम किया था.इस सराहनीय काम के लिए पुलिस आयुक्त विपीनकुमार सिंह ने इस दस्ते के सभी पुलिसकर्मियों को सम्मानपत्र देकर उनके काम की सराहना की.इस अवसर पर नवी मुंबई पुलिस आयुक्तालय के कई पुलिस अधिकारी उपस्थित थे.