राजीव गांधी फ्लाईओवर मरम्मत के लिए होगा बंद

  • हरक्यूलिस स्ट्रक्चरल ने नोटिफिकेशन के लिए यातायात उपायुक्त को दिया पत्र

भिवंडी. स्वर्गीय राजीव गांधी फ्लाईओवर को मरम्मत के लिए करीब 4 माह के लिए बंद किया जाएगा. फ्लाईओवर दुरुस्ती कार्य को अंजाम देने वाली में. हरक्यूलिस स्ट्रक्चरल सिस्टम ने पुलिस उपायुक्त वाहतुक विभाग को पत्र लिखकर 1 नवंबर से फ्लाईओवर बंद किए जाने के लिए शहरवासियों की जागरूकता के लिए यातायात अधिसूचना जारी किए जाने की डिमांड की है.

गौरतलब है कि 2006 में रामेश्वर मंदिर से बागे फिरदौस मस्जिद तक करीब डेढ़ किलोमीटर लंबा फ्लाईओवर का निर्माण 14 करोड़ 94 लाख रुपये की लागत से जयकुमार कंस्ट्रक्शन कम्पनी द्वारा किया गया था. फ्लाईओवर का उद्घाटन तत्कालीन मुख्यमंत्री विलासराव देशमुख ने किया था. आश्चर्यजनक तथ्य है कि 14 वर्षों के अल्पकाल में ही भिवंडी मनपा द्वारा समुचित रिपेरिंग, देखभाल न होने से फ्लाईओवर की हालत बेहद खराब हो चुकी है. 

निर्माण के उपरांत ही फ्लाईओवर की गुणवत्ता पर उठे सवाल

सूत्रों की माने तो जयकुमार कंस्ट्रक्शन कंपनी द्वारा निर्माण में घटिया सामग्री प्रयुक्त किए जाने से फ्लाईओवर निर्माण के उपरांत ही फ्लाईओवर की गुणवत्ता पर सवाल खड़े होना शुरू हो गए थे. बरसात के दौरान पुल पर निर्मित हुए जानलेवा गड्ढों में जलजमाव होने से नागरिकों को आफत का सामना करना पड़ता है. बिगत 2 वर्ष पूर्व ही एसटी स्टैंड के पास फ्लाईओवर का करीब 5 फिट से अधिक ऊपरी हिस्सा अचानक भरभराकर सड़क पर गिर गया था जिससे फ्लाईओवर की मजबूती को लेकर गंभीर प्रश्न खड़े हो गए थे. स्व.राजीव गांधी फ्लाईओवर का ऊपरी हिस्सा गिरने से तत्कालीन मनपा आयुक्त मनोहर हिरे नें कुछ दिन के लिए फ्लाईओवर को बंद कराया और बीजेटीआई इंजीनियरों से जांच सहित फ्लाईओवर के क्षतिग्रस्त भाग की दुरुस्ती फ्लाईओवर निर्माता जयकुमार कंस्ट्रक्शन से कराई और यातायात के लिए खोल दिया था.

एमएमआरडीए से की मरम्मत की मांग

मनपा कमिश्नर हिरे ने शासन को पत्र लिखकर एमएमआरडीए की मार्फ़त फ्लाईओवर की  मरम्मत कराए जाने की मांग की थी. तत्कालीन मनपा कमिश्नर हिरे के पत्र एवंम फ्लाईओवर दुरुस्ती को लेकर बीजेटीआई की रिपोर्ट पर गंभीरता दर्शाते हुए एमएमआरडीए कमिश्नर मदान ने फ्लाईओवर की दुरुस्ती, सुधार,मजबूती के लिए 7 करोड़ 13 लाख 740 रुपये की आंशिक मंजूरी प्रदान की. एमएमआरडीए की मंजूरी के बाद भिवंडी मनपा द्वारा टेंडर निकाला गया जिसे मे. हरक्यूलिस स्ट्रक्चरल सिस्टम (दिल्ली) ने प्राप्त किया है. एमएमआरडीए ने फ्लाईओवर दुरुस्ती के उपरांत पूर्ण भुगतान मनपा के द्वारा हरक्यूलिस कम्पनी को दिए जाने की सहमति दर्शाई है.

4 माह में होगा फ्लाईओवर मरम्मत का कार्य

फ्लाईओवर की मरम्मत  के लिए मे. हरक्यूलिस स्ट्रक्चरल सिस्टम नें यातायात पुलिस उपायुक्त, वरिष्ठ यातायात निरीक्षक को पत्र लिखकर 1 नवंबर से फ्लाईओवर की दुरुस्ती के लिए नोटिफिकेशन जारी किए जाने की मांग की है. सूत्रों की माने तो यातायात विभाग सम्बंधित मनपा अधिकारियों से बैठक कर दीपावली के उपरांत नोटिफिकेशन जारी कर सकता है. फ्लाईओवर की दुरुस्ती में करीब 4 माह का समय लग सकता है.