राकेश पाटिल हत्याकांड : अदालत के बाहर महिलाओं ने किया प्रदर्शन

उल्हासनगर. मनसे नेता राकेश पाटिल की हत्या के मामले में पकड़े गए मुख्य आरोपी व उसके 2 अन्य साथियों को शुक्रवार को उल्हासनगर स्थित चोपड़ा कोर्ट लाया गया था. मनसे नेता पाटिल के दर्जनों परिजनों ने कोर्ट के मुख्य द्वार पर एकत्रित होकर आरोपियों को हमारे कब्जे में दिए जाने की मांग को लेकर जमकर नारेबाजी की एवं पुलिस जिस गाड़ी में आरोपियों को लेकर पहले आयी व अदालती कार्रवाई के बाद वापस ले जा रही थी, तब उस गाड़ी की ओर भी पाटिल के परिजन व महिलाओं ने दौड़ लगाई. लेकिन पुलिस का पुख्ता बंदोबस्त होने के कारण मामला नियंत्रण में हो सका.

गौरतलब है कि पिछले महीने स्थानीय पालेगांव प्राचीन शिवमंदिर के पीछे के परिसर में मनसे के शहर उपाध्यक्ष राकेश पाटिल की निर्मम हत्या हो गई थी. पुलिस ने कुल 8 लोगों को 3 चरणों में गिरफ्तार किया था. इस हत्याकांड को लेकर दर्ज एफआईआर के आरोपी नंबर 1 डी मोहन  व आरोपी नंबर 2 भरत पाटिल व रमेश दोबारी की रिमांड की सीमा पूरी होने पर शुक्रवार को उल्हासनगर कोर्ट ले जाया गया था. आरोपी के अदालत में आने की जानकारी मिलने पर राकेश पाटिल के घर की अनेक लोग कोर्ट पहुंचे व आरोपियों को कब्जे में देने की मांग की. कुछ देर के लिए अदालत के बाहर के परिसर में तनाव का माहौल बन गया था. लेकिन पुलिस की मुस्तैदी से कोई अप्रिय घटना नहीं हो सकी.