गर्मी की मार से दुर्लभ नवरंग पक्षी घायल

कल्याण. नौ रंगों की छटा होने और शील, सुरीले स्वर में आवाज निकालने वाला दुर्लभ नवरंग पक्षी के गर्मी की मार से घायल होने की घटना कल्याण के वायले में सामने आयी है. सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे पक्षीमित्र महेश बनाकर ने घायल पक्षी नवरंग का का उपचार शुरू कर दिया हैं. यह दुर्लभ पक्षी दक्षिण भारत से विचरण करने के लिए आते हैं. मई से अगस्त महीने तक खूब विचरण होता है और यह पक्षी दक्षिण भारत से गौताल में आते हैं और अगस्त में फिर दक्षिण भारत में चले जाते हैं. झुडपी, जंगल, पानझडी जंगल में यह अपना ठिकाना बनाते हैं और अधिकतर जमीन पर कूदते और उड़ते हैं.