रिक्शा चालकों का किसान आंदोलन को समर्थन

  • करीब 1000 आटो पर लगाए पोस्टर

कल्याण. केंद्र के कृषि कानून के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए राजधानी दिल्ली को घेरे बैठे किसान  आंदोलन का असर पूरे देश में होने लगा है. विभिन्न राजनीतिक दलों के साथ ही सामाजिक, व्यापारिक और श्रमिक संगठन भी किसानों के आंदोलन को समर्थन देने लगे हैं. इसी कड़ी में डोंबिवली में एक हजार ऑटो रिक्शा चालकों ने अपनी रिक्शा के पीछे जय जवान जय किसान का पोस्टर लगाकर किसान आंदोलन को समर्थन दर्शाया है.

केंद्र सरकार द्वारा बनाये गए कृषि कानून के विरोध किए जा रहे किसान आंदोलन के चलते पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश आदि राज्यों में किसान  केंद्र सरकार के नए कृषि कानून का विरोध करते हुए सड़क पर उतर आए हैं और देश की राजधनी दिल्ली को लाखों किसान चारों तरफ से घेरे बैठे हैं. 

अब किसान आंदोलन को देश भर से समर्थन मिलने लगा है. इसी कड़ी में शुक्रवार को  डोबिवली में लाल बावटा रिक्शा यूनियन ने  किसान आंदोलन को खुला समर्थन किया और 1 हजार रिक्शा के पीछे जय जवान जय किसान लिखा पोस्टर लगाया है.  इससे मंत्री बच्चू कडू ने भी किसानों के आंदोलन का समर्थन किया है. अब डोंबिवली में  लाल बावटा रिक्शा यूनियन ने किसान आंदोलन का समर्थन दर्शाया है, जिससे अब किसानों का आंदोलन महाराष्ट्र में भी भड़कता हुआ दिखाई दे रहा है.