भिवंडी कांग्रेस में हड़कंप, 21 कांग्रेसी नगरसेवकों का त्यागपत्र

भिवंडी. महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस  प्रदेशाध्यक्ष बाला साहेब थोरात द्वारा 9 वर्षों तक कांग्रेस पार्टी जिलाध्यक्ष रहे शोएब खान गुड्डू को हटाकर पूर्व विधायक रशीद ताहिर मोमिन को भिवंडी शहर का प्रभारी अध्यक्ष बनाया जाना भारी पड़ गया है. शोएब खान गुड्डू को जिलाध्यक्ष पद से हटाए जाने से आक्रोशित कांग्रेस के 29 नगरसेवकों में से 21 नगरसेवकों ने रशीद ताहिर का विरोध करते हुए नगरसेवक पद से इस्तीफा दिया है और इस्तीफे की प्रति प्रदेशाध्यक्ष थोरात एवं मनपा आयुक्त पंकज आसिया को गट नेता हलीम अंसारी द्वारा सौंपी गई है. उक्त जानकारी कांग्रेस मनपा गट नेता हलीम अंसारी ने दी है.

2 दिन पूर्व ही 9 वर्षों तक भिवंडी कांग्रेस अध्यक्ष रहे शोएब खान गुड्डू को हटाकर कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष बाला साहेब थोरात ने पूर्व विधायक रशीद ताहिर मोमिन को भिवंडी कांग्रेस का प्रभारी अध्यक्ष नियुक्त किया है. बता दें कि भिवंडी मनपा में कुल 47 नगरसेवक कांग्रेस के हैं. 1 वर्ष पूर्व कांग्रेस के 18 नगरसेवकों ने महापौर चुनाव में पार्टी प्रत्याशी से बगावत कर कोणार्क विकास आघाड़ी का महापौर बनाए जाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी, जिसके कारण कांग्रेस नेतृत्व द्वारा 18 नगरसेवकों को बागी करार देते हुए सदस्यता रद्द किए जाने की याचिका कोंकण आयुक्त के समक्ष प्रलम्बित है.

कांग्रेस के शेष 29 नगरसेवकों में से 21 नगरसेवकों ने रशीद ताहिर को प्रभारी अध्यक्ष बनाए जाने के विरोध में नगरसेवक पद से इस्तीफा दिए जाने का पत्र प्रदेशाध्यक्ष थोरात एवम मनपा आयुक्त पंकज आसिया को दिया है. देखना बेहद दिलचस्प होगा कि नगरसेवकों के इस्तीफे को देखते हुए प्रदेशाध्यक्ष थोरात भिवंडी में कांग्रेस पार्टी की बेहतरी हेतु क्या कदम उठाते हैं? शहरवासियों की निगाहें कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष थोरात के अगले निर्णय पर टिकी हैं.