धनसार गांव के सरपंच ने की 91,000 की बिजली चोरी

  • केस अपराध दर्ज

उल्हासनगर.  पालघर तालुके के धनसार गांव के सरपंच राजेंद्र घरत के घर पर चोरी की बिजली के इस्तेमाल का मामला सामने आया है। जब बिजली विभाग की टीम जांच के लिए पहुंची तो उस दौरान सरपंच घरत ने जांच टीम को धमकी दी. महावितरण की शिकायत पर घरत के खिफाफ कार्रवाई में बाधा उत्पन्न करने, सरकारी काम में बाधा डालने का मामला दर्ज किया गया है। पालघर पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।

महावितरण कल्याण मंडल ने एक प्रेस विज्ञप्ति जार कर बताया कि जांच में पता चला था कि सरपंच घरत के घर में मीटर बदलकर और मीटर को बाईपास कर बिजली चोरी की जा रही थी। दस्ते ने उसके खिलाफ कार्रवाई की। बिजली के मीटर की जांच करते समय सरपंच घरत ने महकमे के अधिकारियों और कर्मचारियों का अपमान किया और देख लेने की धमकी भी दी। इसलिए दस्ते ने पुलिस की मदद ली। सरपंच घरत ने फिर से पुलिस के सामने भी महावितरण की टीम से गाली गलौज किया। 

घरत के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। जांच के बाद पता चला कि घरत ने 91,000 रुपए की बिजली चोरी की है। घरत को बिजली चोरी के लिए 91,000 रुपए और जुर्माना के लिए 8,000 रुपए का भुगतान करने के लिए नोटिस जारी की गई है। जांच अभियान में ऑपरेशन ने धनसार गांव में सरपंच घरत सहित अन्य पांच लोगों द्वारा चोरी की बिजली का उपयोग करने का खुलासा हुआ है। महावितरण द्वारा आधिकारिक कनेक्शन से ही बिजली का उपयोग करने की अपील की गई है।