एंटीजन किट्स खरीदी में हुआ घोटाला

  • मनसे ने जताई आशंका

ठाणे. ठाणे मनपा में कोरोना टेस्ट के लिए उपयोग किये जाने वाले रैपिड एंटीजन टेस्ट किट के घोटाले की आशंका मनसे ने जताई है. साथ ही मामले की जांच की भी मांग की हैं. शनिवार को मनसे के जिला मध्यवर्ती कार्यालय में एक प्रेस कांफ्रेंस में ठाणे पालघर जिलाध्यक्ष अविनाश जाधव ने एक वीडियो को प्रस्तुत किया और उसी आधार पर उक्त आरोप लगाया.

वीडियों में दो महिलाएं पैकेट में रखे किट को निकाल कर अलग कर रही है. जाधव का दावा है कि मनपा टेस्ट के नाम पर अधिक संख्या में किट की खरीद कर रही है और फिर बचे किट को प्रतिदिन अलग कर कचरे में फेंका जा रहा है. जाधव ने एक अधिकारी का नाम उजागर करते हुए आरोप लगाया कि उसी के निर्देश पर यह सब शुरू है.

जाधव ने उक्त मामले कि गहराई से जांच कर संबंधित अधिकारी और कर्मचारी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग कि है  इस बारे में पूछे जाने पर मनपा के उपायुक्त व जनसंपर्क संदीप मालवी ने उक्त सभी आरोप को गलत बताया है. मालवी का कहना है कि शहर में प्रतिदिन साढ़े 5 हजार से अधिक टेस्ट किया जा रहा है और इसमें बड़े पैमाने पर किट का उपयोग हो रहा है. मालवी के अनुसार किट कि कमी होने पर उसे मंगाना पड़ता है इसलिए किट को फेंकने कि बात एकदम झूठ है.

मालवी के अनुसार वीडियो में महिलाएं किट को अलग कर रही है लेकिन उससे यह स्पष्ट नहीं होता है कि उसे फेंका जाना है. मालवी ने बतया है कि वीडियो की जांच की जा रही है लेकिन अभी तक पता नहीं चला है की वीडियो कहाँ का है ? और उसमे क्या गलत और क्या सही है.