सोशल डिस्टेंसिंग का मामला, मनपा की रडार पर दुकानदार

नवी मुंबई. अनलॉक- 1 के तहत राज्य सरकार के द्वारा नए दिशा निर्देश जारी किए गए हैं. जिसके तहत नवी मुंबई महानगर पालिका के द्वारा कुछ दुकानदारों को दुकान खोलने की अनुमति मिली हुई है. लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग के मामले में ऐसे दुकानदार मनपा की रडार पर हैं.

 नवी मुंबई महानगरपालिका के तहत आने वाले क्षेत्रों में फेरीवालों को व्यवसाय करने की छूट अभी नहीं मिली है. जिसकी वजह से मनपा के द्वारा बनाए गए फेरीवाला क्षेत्र अभी सुनसान पड़े हुए हैं. कारोबार करने की अनुमति नहीं मिलने की वजह से अधिकांश फेरीवालों के सामने आर्थिक संकट गहरा गया है. सरकार के द्वारा फेरीवालों को अनलॉक- 2 में किस तरह से नियमों के तहत व्यवसाय करने की अनुमति मिलेगी. इस बात पर फेरी वालों की निगाहें टिकी हुई है. वहीं दुकानदार भी सरकार के नए नियमों का इंतजार कर रहे हैं.

किराना की दुकान में बिक रही सब्जियां

लॉकडाउन के पहले लोग मॉल व फेरीवालों के पास से सब्जियों व फलों को खरीदते थे, लेकिन लॉकडाउन के कारण उक्त दोनों बंद हैं. जिसका फायदा उठाने के लिए अब किराना की दुकान चलाने वाले सब्जियां भी बेच रहे हैं. जिसकी वजह से किराना की दुकानों पर अक्सर ग्राहकों की भीड़ नजर आती है. कई बार ऐसी दुकानों पर आने वाले ग्राहकों के द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया जाता है. जिसकी वजह से दुकानदारों को इसका खामियाजा भुगतना पड़ता है. ऐसे दुकानदारों पर मनपा के द्वारा दंडात्मक कार्रवाई की जा रही है.

मास्क नहीं लगाने पर कार्रवाई

 कोरोना की रोकथाम करने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग के साथ-साथ दुकानदारों को मास्क लगाना भी अनिवार्य किया गया है. जिन दुकानों के मालिकों व कर्मचारियों के द्वारा इन दोनों का उल्लंघन किया जा रहा है. उनसे मनपा दंड वसूल रही है. सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करने वालों से 2000 रुपए और मास्क नहीं लगाने वालों से 500 रुपए का दंड किया जा रहा है.