कल्याण की आर्ट गैलरी में स्थायी हॉस्पिटल शुरू करो : सांसद श्रीकांत शिंदे

कल्याण. कल्याण डोंबिवली वासियों के झगड़ने और  कोरोना के बाद स्वास्थ्य चिकित्सा के लिए एक सुसज्ज हॉस्पिटल होने की आशा एक बार फिर से जग गई है. कल्याण आर्ट  गैलरी इमारत में स्थायी तौर पर बनाकर शुरू किए गए कोविड केयर अस्पताल की जगह में स्थायी रूप से 700 बेड का सुसज्ज हॉस्पिटल शुरू किया जाये, ऐसी सलाह कल्याण के शिवसेना सांसद डॉ. श्रीकांत शिंदे दी है.   

कोरोना के दौरान मरीजों का उपचार करने के लिए कडोमपा के कल्याण डोंबिवली में कई जगह अस्थायी रूप से  कोविड सेंटर सुरू किए गए हैं. सावलाराम क्रीड़ासंकुल, पाटीदार, जिमखाना के साथ ही कल्याण की आर्ट गैलरी की जगह में सुसज्ज कोविड केयर सेंटर चल रहे हैं, जिसके लिए अभी तक करोड़ों रुपयों का का खर्च हुआ है, जिसमें इतना अधिक खर्चे में कडोमपा का अपना खुद का सुसज्ज अस्पताल खड़ा हो सकता था, ऐसी टिप्पणी कुछ लोगों द्वारा की जा रही थी, जिसके चलते खासदार डॉ. श्रीकांत शिंदे ने कल्याण पश्चिम के लालचौकी स्थित आर्ट गॅलरी का आरक्षण बदल कर उक्त जगह को अस्पताल के लिए आरक्षित कर वहां स्थायी रूप से सुसज्ज अस्पताल की बनाने की मांग की है.

सांसद डॉ. श्रीकांत शिंदे का कहना है कि जिस तरह ठाणे में ग्लोबल हब में 1 हजार बेड के सुसज्ज अस्पताल को स्थायी रूप से करने का प्रयास सरकारी स्तर पर हो गया है. उसी तरह से आर्ट गैलरी में वर्तमान में चल रहे 700 बेड के हॉस्पिटल की जगह में भी स्थायी अस्पताल बनाया जाए. इसके लिए हम  पालकमंत्री एकनाथ शिंदे से विनंती करेंगे, ऐसा विचार खासदार डॉ. शिंदे ने व्यक्त किया और कहा कि इस जगह पर आर्ट गैलरी के आरक्षण को बदलकर अस्पताल के लिए आरक्षित करने से कल्याण डोंबिवलीकरों को एक सुसज्ज हॉस्पिटल मिल सकता है.