Corona virus is spreading due to not following social distance law correctly: Pawar

मुंबई, का.सं., राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार ने आरोप लगाया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से संविधान को खतरा है. पवार ने यह बात सविधान बचाओ अभियान को लेकर आयोजित कार्यकम में कही.

मुंबई, का.सं., राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार ने आरोप लगाया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से संविधान को खतरा है. पवार ने यह बात सविधान बचाओ अभियान को लेकर आयोजित कार्यकम में कही. उन्होंने कहा कि डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर के संविधान के साथ किसी तरह की छेड़छाड़ को  बर्दाश्त नहीं  किया जाएगा.  उनकी पार्टी इस लड़ाई को लड़ने के लिए पूरी तरह से तैयार है . पार्टी की महिला विंग ने सविधान बचाओ , देश बचाओ कार्यक्रम का आयोजन यशवंतराव चव्हाण हॉल में किया था. पवार ने अपने भाषण में आरएसएस की भूमिका को लेकर जम कर हमला बोला.  आरएसएस के काम करने के तरीके से संविधान को खतरा है . पवार ने बीजेपी मंत्री अनंत कुमार हेगड़े के संविधान में बदलाव के बयान का जिक्र करते हुए कहा कि उनके इस बयान को बीजेपी ने व्यक्तिगत मत बताया था. लेकिन इसके पीछे आरएसएस के  गोलवलकर की विचारधारा थी.  गोलवलकर के किताबों में संविधान विरोधी बातों का जिक्र मिलता है . आरएसएस के लोग संविधान को नहीं मानते हैं . पवार ने आरोप लगाया कि पिछले चार साल में उपेक्षित , दलित,  अल्पसंख्यक,  ओबीसी व महिलाओं पर अत्याचार बढ़ा है.  गोमांस की बिक्री का आरोप लगा कर  निर्दोष लोगों पर हमला किया जा रहा है.  लेकिन सरकार कोई कड़ी कार्रवाई नहीं कर रही है . पवार ने कहा कि इस तरह की घटनाओं का पुरजोर विरोध करने के लिए उनकी पार्टी ने कमर कस ली हैं.  उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं को किसी भी गलत काम के खिलाफ मुस्तैदी के साथ खड़े होने का आवाहन किया है . 

संविधान की ताकत 

पवार ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने आम लोगों के लिए काम किया था . लेकिन उन्होंने 1977 में आपातकाल लगाया था . जिसके बाद जनता ने उन्हें नकार दिया था . यह संविधान की ताकत है .   

संविधान की रक्षा के लिए एकजुट 

राकां प्रदेशाध्यक्ष जयंत पाटिल ने कहा कि हम सभी संविधान की रक्षा के लिए एकजुट हैं . सुप्रिया सुले ने इस मुद्दे को लेकर सरकार को जागने का आवाहन किया . इस मौके पर  अजीत  पवार,   महिला अध्यक्षा फौजिया खान,  पितांबर मास्टर, सुनील तटकरे,  नवाब मलिक समेत कई नेता मौजूद थे .