Tanker owner arrested in case of release of chemical water in Valdhuni river

    अंबरनाथ. स्थानीय मोरिवली (Morivali) परिसर से गुजरने वाले नाले में जो आगे जाकर वालधुनी नदी (Valdhuni River) में मिलता है, उस नाले में रसायन (Chemical) युक्त लाल रंग का पानी छोड़े जाने के मामले में टैंकर मालिक (Tanker Owner) को रंगे हाथों गिरफ्तार (Arrested) करने का मामला सामने आया है। 

    वालधुनी नदी को स्वच्छ बनाने व नदी को प्रदूषित करने वालो पर कार्रवाई किए जाने की मांग को लेकर विविध एनजीओ विगत कई वर्षों से संघर्षरत है। वालधुनी के पानी से आए दिन जहरीले गैस से नागरिको को उल्टी, दस्त, आंखों में जलन की शिकायतें होती रहती है। केमिकल कंपनी वाले अपने प्लांट से निकलने वाले वेस्टेज पानी को बिना ट्रीटमेंट किए टैंकर वालों के माध्यम से सीधे नालों नालियों में चोरी छिपे केमिकल पानी बहाते है, जो कानूनन अपराध है।

    टैंकर को भी किया गया जप्त

    आखिरकार नदी को मैला करने के मामले में एक टैंकर मालिक को रंगेहाथ गिरफ्तार कर टैंकर को जब्त किया। अज्ञात कंपनी मालिक की भी पुलिस को तलाश है। एमआईडीसी के डिप्टी इंजीनियर श्रीकांत वेंकटेश भिंगे की शिकायत पर स्थानीय पुलिस ने स्थानीय मोरिवली एमआईडीसी में रसायनिक टैंकर के  मालिक धीरज धूमाल और अज्ञात कंपनी मालिक, कंपनी के प्रबंधक के खिलाफ  धारा 268, 269, 270, 278 और 284 और धारा 284 के तहत मामला दर्ज किया है। पर्यावरण संरक्षण अधिनियम 1985 के 15 के तहत टैंकर जब्त और टैंकर मालिक को गिरफ्तार किया गया है। आगे की जांच सहायक पुलिस निरीक्षक  एन. बी. करे द्वारा की जा रही है।  अंबरनाथ नगरपालिका, एमआईडीसी और एमपीसीबी द्वारा संयुक्त कार्रवाई की गई है, ऐसी जानकारी नगरपालिका के स्वास्थ्य अधिकारी सुरेश पाटिल तथा एमपीसीबी के प्रमोद लोने द्वारा प्राप्त हुई।