ठाणे पुलिस के हत्थे चढ़े नकली नोटों के सौदागर

  • तीन लोग गिरफ्तार
  • 85 लाख 48 हजार के नकली नोट बरामद

ठाणे. ठाणे क्राइम ब्रांच की यूनिट 5 की टीम ने दो हजार मूल्य के नकली नोट (Fake Currency) छापने वाले गिरोह का पर्दाफ़ाश ने किया है। पुलिस ने पकड़े गए सचिन आगरे, मंसूर खान तथा चंद्रकांत माने के पास से 85 लाख 48 हजार मूल्य के दो हजार के नकली नोट को जब्त किए गए हैं।

डीसीपी लक्ष्मीकांत पाटिल के मुताबिक यूनिट पांच के सीनियर पीआई विकास घोडके को फर्जी नोट को भुनाने के लिए एक युवक के कापुरबावड़ी सर्कल पर आने की खबर लगी थी, जिसके बाद पुलिस टीम ने जाल बिछाया और संदेहास्पद स्थित में घूम रहे चिपलूण निवासी सचिन आगरे को धरदबोचा।

आगरे से पूछताछ के बाद पुलिस ने उसके बाकी दोनों साथी को पकड़ा। पुलिस ने पकड़े गए लोगों के पास से 85 लाख 48 हजार मूल्य के दो हजार के नकली नोट सहित नोट को छापने में उपयोग होने वाले कंप्यूटर, लेजर कलर प्रिंटर, ब्लैक एंड व्हाइट प्रिंटर, वाटरमार्क, रेडियम पट्टी, नोट को बनाने में लगने वाले कोरे कागज इत्यदि सामानों को जब्त किया है।

डीसीपी लक्ष्मीकांत पाटिल, एसीपी किसन गवली के मार्गदर्शन में विकास घोड़के के नेतृत्व में एपीआई प्रशांत पवार, अनिल सुरवसे, भूषण शिंदे, एपीएसआई बाबू चव्हाण, कांस्टेबल देवीदास जाधव, राजा क्षत्रिय, दिलीप शिंदे, कल्पना टावरे, अजित शिंदे की टीम ने आरोपियों को पकड़ नोटों को जब्त करने में सफलता पायी।