वाशी खाड़ी पुल से युवती ने लगाई छलांग, मछुआरों ने बचाई जान

नवी मुंबई. वाशी खाड़ी पुल से कूदकर आत्महत्या का प्रयास करने वाली एक 18 साल की युवती को वाशी गांव में रहने वाले 2 मछुआरों ने बचाने का काम किया. इस युवती को खाड़ी पुल से पकड़कर इन दोनों मछुआरों ने उसे वाशी पुलिस को सौंप दिया. जिसे समझा-बुझाकर पुलिस ने देर शाम को उसके परिजनों के हवाले कर दिया.

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मुंबई के घाटकोपर में रहने वाली 18 साल की सीमा (बदला हुआ नाम) नामक युवती का अपनी मां के साथ झगड़ा हुआ था. जिसकी वजह से वह शुक्रवार को दोपहर 4 बजे के दौरान आत्महत्या करने के इरादे से रिक्शा में बैठकर वाशी खाड़ी पुल पर आई थी. जहां पर इस युवती ने खाड़ी में छलांग लगाने का प्रयास किया.

नहीं मान रही थी अपने भाई की बात

पुलिस के मुताबिक सीमा का भाई उसका पीछा करते हुए खाड़ी पुल पर पहुंच गया था. जहां उसने अपनी बहन को पकड़ने की कोशिश की, लेकिन सीमा मानने को तैयार नहीं थी. वह बार-बार खाड़ी पुल से कूदने की कोशिश कर रही थी. पुलिस ने बताया कि इसी दौरान वाशी गांव के मछुआरे महेश सुतार व दत्ता भोईर ने वहां पर पहुंचकर युवती को पकड़ने का काम किया. जिसकी वजह से यह युवती खाड़ी में छलांग नहीं लगा पाई और इसकी जान बच गई.