fine
file

    नवी मुंबई. विगत 3-4 दिनों से नवीमुंबई महानगरपालिका (NaviMumbai Municipal Corporation) के तहत आनेवाले क्षेत्रों में कोरोना पॉजिटीव (Corona Positive) पाए जाने वालों की संख्या में वृद्धि नजर आ रही है। जिसे फैलने से रोकने के लिए मनपा कमिश्नर ने ठोस कदम उठाते हुए कोरोना (Corona) के नियमों का उल्लंघन करने वालों पर नजर रखने के लिए विशेष 31 विशेष दस्ते का गठन (Special Squad) किया है। जिसमें 155 कर्मचारियों का समावेश है।यह दस्ता आज से मनपा के तहत आनेवाले क्षेत्रों में कोरोना के नियमों का उल्लंघन करने वालों पर नजर रखेगा और दोषियों के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई करेगा।

     गौरतलब है कि 16 अक्टूबर 2020 के बाद पहली बार नवी मुंबई महानगरपालिका के क्षेत्र में एक दिन में कोरोना से संक्रमित 300 से अधिक लोग पाए गए हैं। कोरोना के संक्रमण के फिर से बढ़ने का मुख्य कारण वह लोग हैं जो इसकी रोकथाम के लिए बनाए गए नियामों का पालन नहीं कर रहे हैं। ऐसे लापरवाह लोगों के खिलाफ मनपा के द्वारा दंडात्मक कार्रवाई की जा रही है। इसके बावजूद लोग नियमों का उल्लंघन करते हुए नजर आते है। जिन पर नजर रखने के लिए मनपा कमिश्नर अभिजीत बांगर के द्वारा उक्त 31 दस्ते का गठन किया गया है। जिसके हर दस्ते में 5-5 कर्मचारियों का समावेश है।

    5 दस्ते को एपीएमसी की जिम्मेदारी

    मनपा कमिश्नर ने मनपा के सभी विभाग कार्यालय के क्षेत्र में 2 दस्ते को शिफ्ट में काम करने की जिम्मेदारी सौंपी है। जिसमें से 1 दस्ता सुबह के समय व दुसरा रात में काम करेगा। इस दस्ते के द्वारा विभाग कार्यालय के क्षेत्र में होने वाले विवाह व अन्य समारोह के अलावा भिड़-भाड़ वाले ठिकानों पर नजर रखी जाएगी। कोरोना के संक्रमण के फैलने का सबसे ज्याद खतरा वाशी स्थित एपीएमसी की मंडियों में आनेवाले लोगों से हो सकता है। इस बात को ध्यान में रखते हुए मनपा कमिश्नर बांगर ने एपीएमसी में एक शिफ्ट में 3 दस्ते को तैनात करने का फैसला किया है।यहां पर 3 शिफ्ट में अलग-अलग दस्ते तैनात रहेगे।

    दंड वसूलना मनपा का उद्देश्य नहीं

    मनपा आयुक्त बांगर ने मीडिया को बताया कि मनपा के द्वारा गठित किए गए 31 दस्ते के द्वारा कोरोना की रोकथाम के किया गया है। दंड वसूलना मनपा का उद्देश्य  नहीं है। लोग कोरोना के नियमों का पालन करें। इसके लिए दस्ते को तैनात किया गया है। कोरोना के संक्रमण के बढ़ते हुए ग्राफ को देखकर नागरिकों को भी सावधानी बरतने की जरूरत है। जिसके लिए नागरिकों को कोरोना से बचने के लिए बताए गए तीन सूत्री नियमों का गंभीरता के साथ पालन करे की आवश्यकता है।