बाघ की खाल बेचने वाले धराए

नवी मुंबई. अपराध शाखा ने बाघ की हत्या कर के उसकी खाल व नाखून को बेचने वाले 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जिनके पास से पुलिस ने बाघ की खाल (Tiger skin) व नाखून बरामद किया है। पुलिस के मुताबिक इस मामले में गणपत पालकु लोभी (26) व गणपत राघू वाघ (55) को गिरफ्तार किया गया है। इन आरोपियों ने पनवेल के मोर्बी जलाशय के पास झोपड़ी बनाई थी। जहां पर बाघ का शिकार करने के बाद इन लोगों ने उसकी खाल व नाखून को एक बोरी में छुपाकर रखा था, जिसकी जानकारी मिलने के बाद नवी मुंबई पुलिस (Navi Mumbai Police) की मध्यवर्ती अपराध शाखा ने उक्त ठिकाने पर छापा मारकर बाघ की खाल व नाखून को बरामद किया है।

कोपरखैरने, तुर्भे व उरण में 11 लाख का गुटखा जब्त

एक अन्य कार्रवाई में नवी मुंबई पुलिस (Navi Mumbai Police) की अपराध शाखा (Crime branch) की यूनिट-1 ने 3 ठिकानों पर छापा मारकर प्रतिबंधित गुटखा समेत कुल 11 लाख रुपए का माल जब्त किया है। इस मामले में पुलिस ने 5 लोगों को गिरफ्तार किया है, जिन्हें कोर्ट ने पुलिस की हिरासत में रखने का आदेश दिया है।

पुलिस आयुक्त बिपिन कुमार सिंह के अनुसार अपराध शाखा की यूनिट-1 को कोपरखैरने, तुर्भे व उरण प्रतिबंधित गुटका बेचे जाने के बारे में गुप्त जानकारी मिली थी। जिसके आधार पर इस यूनिट ने विनोद कुमार जैन, अवनीकांत गिरी व नईम अंसारी को गिरफ्तार कर के प्रतिबंधित गुटका व अन्य सामग्री को बरामद किया है।