Ventilator

    ठाणे. जिले (District) के शहरी और ग्रामीण क्षेत्र ‘ब्रेक द चेन’ (Break the Chain) के तीसरे लेवल (Third Level) को लागू कर कोरोना महामारी (Corona Pandemic) को नियंत्रित करने पर काम किया जा रहा है। प्रतिदिन कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में भी कमी आने लगी है। इसके अलावा एक्टिव मरीजों की संख्या 20,000 से घटकर 4,599 हो गई है। हालांकि पिछले तीन महीनों की तुलना में गंभीर रूप से बीमार 25 प्रतिशत रोगियों का अभी भी ऑक्सीजन और वेंटिलेटर के साथ इलाज किया जा रहा है। बताया गया है कि आज भी 1,156 मरीजों का ऑक्सीजन और वेंटिलेटर पर इलाज चल रहा है। 

    फिलहाल जिला में कोरोना की दूसरी लहर के प्रभाव को कम करने के लिए ‘ब्रेक द चेन’ के तहत उपायों का कार्यान्वयन किया जा रहा है।  इन उपायों की शुरुआत में नवी मुंबई, कल्याण-डोंबिवली महानगरपालिका  ने ठाणे के साथ दूसरे लेवल के उपायों को कार्यान्वित करने का काम किया है। हालांकि राज्य सरकार ने समय रहते सतर्कता बरतते हुए महानगरपालिकाओं सहित सभी जिलों को तीसरे लेवल को लागू करने का आदेश दिया था।  साथ ही सरकार ने कोरोना महामारी की गंभीरता को देखते हुए ब्रेक द चेन की गंभीरता को बताया था।  इससे पहले कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए 29 अप्रैल से 15 मई तक प्रतिबंध लगाया गया था।  इसमें नए दिशा-निर्देशों की घोषणा करते हुए एक जून और अब तक ‘ब्रेक द चेन’ के तीसरे स्तर को लागू किया गया है। 

    सक्रिय और उपचाराधीन मरीजों की संख्या को देखते हुए मौजूदा तीसरे लेवल से छुटकारा पाने की उम्मीदें पल्लवित हो गई हैं, लेकिन जुलाई के अंतिम सप्ताह में शुरू हुआ होने के बाद भी प्रतिबंधों को जारी रखने से नागरिकों में गुस्सा है।  इसके खिलाफ जिले में संगठित व्यापारी आवाज उठा रहे हैं।  12 मई से अब तक सक्रिय मरीजों की संख्या को भले की कम होता जा रहा हो, लेकिन अभी भी गंभीर रूप से बीमार मरीजों की संख्या अभी भी 25 फीसदी है। आज भी 4,887 रोगियों का इलाज ऑक्सीजन और 156 का इलाज वेंटिलेटर पर चल रहा है।