Bogus doctor's fake degree seized, police searched the hospita
Representational Pic

भिवंडी. नारपोली पुलिस स्टेशन अंतर्गत काल्हेर गांव में एक कंपनी मालिक द्वारा मजदूरों को वेतन देने के लिए ठेकेदार को दिए गए रुपए को लेकर  ठेकेदार लेकर चंपत हो गया है. कंपनी मालिक की शिकायत पर पुलिस ने ठेकेदार के विरुद्ध  धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस  फरार ठेकेदार की तलाश कर रही है.

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार काल्हेर गांव में उदय भरत देसाई  (मालाड) की कंपनी है. उक्त कंपनी में काम करने वाले मजदूरों को वेतन देने के लिए कम्पनी मालिक देसाई ने ठेकेदार अबुल कासम ठेकेदार के एचडीएफसी बैंक खाता में 16 लाख 92 हजार 67 रुपये ट्रांसफर किया था. आश्चर्यजनक तथ्य है कि ठेकेदार कासम ने मजदूरों को वेतन का भुगतान न करते हुए रुपये लेकर चम्पत हो गया.

पुलिस में दर्ज कराई शिकायत

कंपनी में कार्यरत मजदूरों को वेतन नहीं मिलने की शिकायत पर कंपनी मालिक सन्न रह गए. कंपनी मालिक ने अबुल कासम के खिलाफ नारपोली पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है. नारपोली पुलिस ने फरार ठेकेदार अबुल कासम पर भादंवि के कलम 406 के तहत चार सौ बीस,धोखाधड़ी का संगीन मामला दर्ज कर लिया है. मामले की तहकीकात सहायक पुलिस निरीक्षक एल.बी.चव्हाण कर रहे है.