Youth dies after bike falls in pit near Korum Mall

    ठाणे. ठाणे (Thane) में कोरम मॉल (Korum Mall) के पास नाला कार्य के लिए ठाणे महानगरपालिका (Thane Municipal Corporation) ठेकेदार द्वारा खोदे गए गड्ढे में एक युवक अपनी बाइक समेत गिर गया। इस हादसे में युवक की दर्दनाक तरीके से मौके पर ही मौत (Death) हो गई। यह घटना सोमवार देर रात की है। वहीं इस दुर्घटना से ठाणे में हड़कंप मच गया। फिलहाल ठेकेदार के खिलाफ वागले इस्टेट थाने में मामला दर्ज किया गया है।

    मिली जानकारी के अनुसार, ठाणे शहर में स्थित कोरम मॉल के निकट नाले के कल्वर्ट का काम करने के लिए गड्डा खोदा गया है। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक इस गड्डे के बगल में लोगों की सुरक्षा के लिए बैरीकेट नहीं लगाए गए थे। इसी बीच सोमवारी को दिवा निवासी प्रमोद देऊलकर (35) ठाणे में अपने दोस्त से मिलने के लिए आया हुआ था। वह रात के समय अपनी बाइक से वापस घर जाने के लिए निकला था। वह सर्विस रोड से तेज गति से जा रहा था कि सर्विस रोड अंधेरा होने के चलते उसे खोदा गया गड्ढा नहीं दिखाई दिया और युवक बाइक के साथ गड्ढे में जा गिरा। 

    मौके पर ही मौत

    इस हादसे में गंभीर रूप से घायल युवक की मौके पर ही मौत हो गई। घटनास्थल पर पहुंची पुलिस टीम ने युवक के शव को गड्ढे से निकाल कर उसे पोस्टमार्टम के लिए जिला सरकारी अस्पताल में भेज दिया गया है। इसके साथ ही मनपा के संबंधित ठेकेदार के खिलाफ वागले इस्टेट पुलिस ने विभिन्न धाराओं के तहत मामला पंजीकृत किया है।

    ठेकेदार और मनपा अधिकारियों की लापरवाही उजागर

    वहीँ, यहां के आसपास के लोगों का कहना है कि ठेकेदार द्वारा किसी भी प्रकार के सुरक्षा के इंतजाम नहीं किया गया था। मिली जानकारी के अनुसार यह काम पायनियर वाटर प्रूफिंग कंपनी को को मनपा प्रशासन द्वारा दिया गया था। साथ ही स्थानीय नागरिकों का कहना है कि कोरम मॉल के पास नाले के कल्वर्ट का काम किया जा रहा है। इसके लिए सड़क पर गड्ढा खोदा गया है। मनपा सूत्रों की माने तो यह काम मूल ठेकेदार ने एक उप ठेकेदार (सब कांट्रेक्टर) को दिया था। जो शिवसेना के पदाधिकारी नगरसेवक का रिश्तेदार बताया जा रहा है। इस ठेकेदार ने सुरक्षा की दृष्टिकोण से गड्ढे को बैरीकेट से नहीं घेरा है और न ही मनपा के संबधित विभाग अधिकारी ही इस पर कड़ा कदम उठाते दिखाई दिए। इसलिए ठेकेदार और मनपा के संबंधित विभाग के अभियंता की इस लापरवाही के चलते निर्दोष युवक की जान गई है। उन्होंने मांग किया है कि संबंधित लापरवाह ठेकेदार और मनपा के अभियंता पर कठोर कार्रवाई की जानी चाहिए। 

    मनपा अतिरिक्त आयुक्त ने दिए जांच के आदेश

    इस हादसे को गंभीरता से लेते मनपा कमिश्नर डॉ विपिन शर्मा के आदेश पर अतिरिक्त आयुक्त-1 गणेश देशमुख ने नगर अभियंता रविंद्र खड़ताले को जांच के लिए अधिकृत किया है। इस संदर्भ में उन्होंने आदेश पारित करते हुए जहां पर हादसा हुआ और युवक की जान गई वहां पर कौन सी कंपनी काम कर रही है और ठेकेदार का नाम क्या है?, काम का स्वरूप और लागत, शुरू किये काम की जगह पर सुरक्षा को लेकर क्या उपाय योजना ठेकेदार द्वारा किया गया था, बैरिकेड्स लगाए गए थे क्या?, मनपा द्वारा नियुक्त अभियंता द्वारा दैनिक पर्यवेक्षण कर रहा था कि नहीं?, उक्त काम किस निधि द्वारा किया जा रहा है और दुर्घटना का विस्तृत रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया है।