केरल राज्य का पोनमुडी हिल स्टेशन है बेहद खूबसूरत, जानें यहां के पर्यटन स्थल

केरल राज्य में स्थित पोनमुडी बेहद खूबसूरत हिल स्टेशन है। लगभग 3002 फीट की ऊंचाई पर स्थित यह पूरा इलाका पहाड़ियों और घाटियों से घिरा हुआ है। यह इतना खूबसूरत है कि लोग इसकी ओर खीचें चले आते हैं। वर्ष के अधिकांश महीने यहां की पहाड़ियां धुंध से ढकी रहती हैं। गुरलिंग ब्रूक्स के तट पर उगने वाली जंगली फूल इस स्थल को खास बनाती है। यह एक खूबसूरत पर्यटन स्थल भी है। यहां की प्राकृतिक खूबसूरती हर साल पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती है।  तो आइए जानें यहां के कुछ खास पर्यटन स्थलों के बारे में…

स्वर्ण घाटी-

स्वर्ण घाटी या गोल्डन घाटी आप कल्लार पुल के माध्यम से पहुंच सकते हैं। बता दें कि मीनमुट्टी के विपरीत यहां तक पहुंचने के लिए कोई सरल ट्रेक रूट शामिल नहीं है। वहीं स्वर्ण घाटी को कल्लार नदी खास बनाने का काम करती है। यहां का साफ पानी आपको अपनी ओर आकर्षित करता है। इस घाटी का काम यहां मौजूद सुनहरे रंग के पत्थरों और कंकड़ की वजह से रखा गया है। 

कल्लार-मीनमुट्टी फॉल-

कल्लार-मीनमुट्टी फॉल त्रिवेंद्रम और पोनमुडी के बीच में स्थित एक जल प्रपात है। कल्लार पुल से मीनमुट्टी फॉल का सफर आप ट्रेकिंग के जरिए पूरा कर सकते हैं। यहां का रास्ता घने जंगलों से घिरा है, जलप्रपात तक पहुंचने के लिए आपको इन्हीं रास्तों का सहारा लेना पड़ेगा। यह आपका रोमांचक और खूबसूरत सफर हो सकता है। 

बोनाकॉड-

बोनाकाड उन लोगों के लिए सबसे खास है जो पहाड़ी एडवेंचर का आनंद जी भरकर लेना चाहते हैं। बोनोकॉड पोनमुडी को एक रोमांचक स्थल बनाने का काम करता है। ब्रिटिशों ने यहां कभी चाय के कारखानों की विशाल संपत्ति की स्थापना की थी। लेकिन अब इन चाय के कारखानों ने खंडहर का रूप ले लिया है। बोनोकॉड लगभग 2500 एकड़ जमीन में फैला है। जिसमें जंगल, झरने, धाराएं, और चाय बागान शामिल हैं। पर्यटक इस स्थान को बेहद पसंद करते हैं। 

अगस्थ कदम-

अगस्थ कदम पहाड़ी इलाका ट्रैवलर्स के लिए काफी खास माना जाता है। 6128 फीट की ऊंचाई पर स्थित अगस्थकूदम केरल में दूसरी सबसे ऊंची चोटी है। इस पहाड़ी स्थान को अगस्थ माला भी कहा जाता है। ऐसा माना जाता है कि संत अगस्त्य का यह निवास स्थान हुआ करता था। बोनाकॉड से इस पहाड़ी का ट्रेक शरू होता है।