पर्यटकों के लिए एक नवंबर से फिर खुलेगा सिमिलीपाल राष्ट्रीय उद्यान

बारीपदा-ओडिशा का सिमिलीपाल राष्ट्रीय उद्यान कोविड-19 निर्देशों का अनुपालन करते हुए एक नवंबर से पर्यटकों के लिए फिर से खोल दिया जाएगा। अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी। मयूरभंज जिले का यह अभयारण्य मार्च के अंतिम सप्ताह से आगंतुकों के लिए बंद कर दिया गया था।

एसटीआर प्रशासन ने कहा कि आगंतुकों को सामाजिक दूरी, मास्क पहनने और सेनिटाइजर का प्रयोग करने जैसे कोविड-19 निर्देशों का सख्ती से पालन करना होगा। सिमिलीपाल बाघ अभयारण्य (एसटीआर) ने एक बयान में कहा कि सुबह छह बजे से सुबह नौ बजे के बीच कलीयामी और पीठबाटा चौकियों के जरिए आगंतुकों को प्रवेश की अनुमति दी जाएगी। अभयारण्य क्षेत्र के अंदर रात भर रहने के इच्छुक लोगों को ऑनलाइन बुकिंग करके ऐसा करने की अनुमति दी जा सकती है।

प्रवेश द्वार पर ही प्रत्येक वाहन में टूरिस्ट गाइड की व्यवस्था की जाएगी। बयान में आगंतुकों को अभयारण्य क्षेत्र से दोपहर तीन बजे तक बाहर आने की सलाह दी गई है। बयान में कहा गया है कि महामारी को देखते हुए समय-समय पर टाइगर रिजर्व के अंदर की स्थिति की समीक्षा की जाएगी । यह राष्ट्रीय उद्यान अपने वनस्पतियों, जीवों, झरने, दुर्लभ गहरे रंग के बाघों और विशाल हरे घास के मैदानों के लिए प्रसिद्ध है और बड़ी संख्या में पर्यटक इसे देखने आते हैं।(भाषा)