plantation
File Photo

    लखनऊ. मुख्‍यमंत्री के निर्देश पर वन विभाग (Forest Department) गुरूवार (एक जुलाई) से प्रदेश में पौधरोपण की मेगा ड्राइव शुरू करने जा रहा है। इस साल 30 करोड़ पौधे (Plants)लगाने का लक्ष्‍य है, जबकि पिछले साल 25 करोड़ पौधे लगाने का लक्ष्‍य तय किया गया था। कोरोना महामारी (Corona Pandemic) को देखते हुए इस बार इम्‍युनिटी बढ़ाने वाले पौध लगाए जाने पर भी जोर है। 4 जुलाई को  अभियान चला कर एक दिन में 25 करोड़ पौधे रोपित किए जाएंगे। 

    मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में छायादार व लम्‍बी उम्र वाले पौधों को रोपित किया जाए। इसके अलावा कोरोना काल के दौरान शरीर की इम्‍युनिटी बढ़ाने वाले पौधे भी रोपित किए जाने के निर्देश दिए हैं। खासतौर पर पीपल, बरगद, पाकड़, नीम, जामुन, सागौन, देसी आम के अलावा सहजन के पेड़ लगाने के निर्देश दिए गए हैं। वन महोत्‍सव के तहत पौधारोपण की शुरूआत मुख्‍यमंत्री द्वारा किया जाएगा। इसके अलावा सभी विभाग मिल कर 30 करोड़ पौधे लगाने के लक्ष्‍य को पूरा करेंगे। मुख्‍यमंत्री ने वन महोत्‍सव पर आयोजित होने वाले पौधरोपण अभियान के दौरान कोविड प्रोटोकाल और सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन किए जाने के निर्देश दिए हैं। पौधरोपण महा अभियान को लेकर विभागों ने अपनी तैयारी पूरी कर ली है।

    हाइवे और सड़क के किनारे लगाए जाएंगे पौधे 

    वन महोत्‍सव के तहत सबसे अधिक पौधरोपण एक्सप्रेस-वे, हाई-वे, सड़क, नहर आदि के किनारे किए जाएंगे। साथ ही औद्योगिक परिसर, राजकीय भूमि सहित अन्य उपयुक्त स्थलों पर पौधरोपण होगा। हर जनपद में औषधीय वाटिका बनाएं जाने के निर्देश भी मुख्‍यमंत्री ने दिए हैं। पौधरोपण अभियान के तहत अनिवार्य रूप से उनकी जियो टैगिंग भी की जाएगी। पौधों की सुरक्षा के लिए ट्री गार्ड लगाए जाएंगे। वहीं, प्रदेश में 100 वर्षों से अधिक आयु के वृक्षों को चिन्हित कर उन्हें ‘हेरिटेज ट्री’ के रूप में संरक्षित किए जाने के निर्देश भी दिए गए हैं। 

     विभाग निभाएंगे अहम जिम्‍मेदारी 

    वन महोत्‍सव पर  30 करोड़ पौधों को रोपित करने के लक्ष्य में वन विभाग10.80 करोड़, ग्राम्य विकास विभाग 10.56 करोड़, कृषि विभाग 2.01 करोड़, उद्यान विभाग 1.33 करोड़, पंचायतीराज विभाग 1.20 करोड़, राजस्व विभाग 1.20 करोड़, पर्यावरण विभाग 1.20 करोड़ पौधे लगाएंगे।