badan-singh

    आगरा. एक बड़ी खबर के अनुसार आगरा पुलिस (Agra Police) की बुधवार देर रात जगनेर के कछपुरा गांव में चंबल के कुख्यात बदन सिंह (Badan Singh) गिरोह से हुए एनकाउंटर (Encounter) में, एक लाख रुपये का इनामी बदमाश बदन सिंह और उसका एक साथी मारा गया। 

    कौन है बदन सिंह :

    बता दें कि बदन सिंह ने हाल ही में एक स्थानीय डॉक्टर से 5 करोड़ रुपये की फिरौती मांगी थी।  पता हो कि बदमाश बदन सिंह पर एक लाख रुपये का ईनाम था।  बदन सिंह ने स्थानीय डॉक्टर उमाकांत गुप्ता का अपहरण किया था और पांच करोड़ रुपये की फिरौती की मांग की थी।  हालाँकि उमाकांत गुप्ता को छुड़वा लिया गया था।  तभी से पुलिस ने बदन सिंह की तलाश शुरू की थी।  जो तब से ही फरार चल रहा था। 

    सूत्रों और ख़बरों के मुताबिक, उमाकांत गुप्ता को 4 बदमाशों ने किडनैप किया था। ये बदमाश आगरा से होते हुए चम्बल के रास्ते डॉक्टर उमाकांत गुप्ता को मध्य प्रदेश तक उड़ाले गए थे।  लेकिन अपहरण के तीस घंटे बाद ही पुलिस ने अपनी मुस्तैदी से डॉक्टर को सुरक्षित बचा लिया था। बाते जा रहा है कि डॉ।  उमाकांत गुप्ता जब अपने अस्पताल से रात को वापस लौट रहे थे, उसी वक्त उन्हें अगवा किया गया था।  लंबे वक्त तक डॉक्टर के घर ना लौटने पर उनकी पत्नी ने पुलिस को इसकी सूचना दी थी, तभी पुलिस ने सर्च ऑपरेशन लॉन्च किया था। 

    कैसे हुआ Encounter :

    इधर अगर इस एनकाउंटर की बात करें तो वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मुनिराज ने बताया कि, बुधवार देर रात जगनेर थाने के प्रभारी निरीक्षक और उनकी टीम गश्त कर रही थी तभी पुलिस ने एक मोटरसाइकिल को रुकने का इशारा किया लेकिन वह नहीं रुकी। उन्होंने बताया कि इसके बाद पीछा करने पर बदमाशों ने मोटरसाइकिल जंगल की ओर मोड़ दी और गोलीबारी शुरू कर दी। इसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गयी जिसमें बदन सिंह और उसका साथी गंभीर रूप से घायल हो गए। 

    उन्होंने बताया कि बाद में दोनों को MMC अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां चिकित्सकों ने उन दोनों को ही मृत घोषित कर दिया। मुठभेड़ के दौरान आगरा के SSP और अन्य अधिकारी की बुलेट प्रूफ जैकेट में गोली लगी। पता हो कि पुलिस ने बदन सिंह पर एक लाख रुपये और उसके चार साथियों पर 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था।