AKHILESH

लखनऊ: समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष (Samajwadi Party President) और उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने राज्य में महिलाओं के प्रति अपराधों के मुद्दे पर सत्तारूढ़ भाजपा (BJP) को घेरते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि भाजपा के जंगलराज (Jungle Rule) में महिला होना ही सबसे बड़ा अपराध हो गया है। 

अखिलेश ने यहां एक बयान में कहा कि, भाजपा सरकार में अपराधी को सत्ता का संरक्षण और अपराध को सामने लाने वाले पर मुकदमा दर्ज होने का अजीबोगरीब खेल चल रहा है। उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था का यह नया रंग ढंग महिलाओं को निराशा में आत्महत्या करने को मजबूर कर रहा है।

 

उन्होंने कहा कि पिछड़े और दलित वर्गों तथा महिलाओं में असुरक्षा की भावना गहरे से घर कर गई है। उन्होंने कहा कि एक तरह से तो भाजपा राज के जंगलराज में महिला होना ही सबसे बड़ा अपराध हो गया है। 

अखिलेश ने कहा, ‘‘दलित समाज की बेटियों पर अत्याचार थमने का नाम नहीं ले रहा है। अयोध्या में सत्ता संरक्षित दबंगों द्वारा दलित किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म की घटना अत्यंत दुःखद है। बेटी को कब इंसाफ मिलेगा यह प्रश्न सरकार से पीड़ित परिवार का है? मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कर्म स्थल गोरखपुर में स्कूटी सवार युवतियों का सड़क पर निकलना मुश्किल हो रहा है।”

 

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘योगी के राज में महिलाओं के खिलाफ अपराध रोकने और अपराधी को पकड़ने के बजाय उसे उजागर करने वाले को ही पकड़ा जा रहा है। फतेहपुर में दो नाबालिग बहनों का शव मिलने पर मां का बयान टीवी चैनल पर चलाने के जुर्म में दो पत्रकारों पर मुकदमा दर्ज कर दिया गया है। 

भाजपा राज में विभिन्न कारणों से कई पत्रकारों के उत्पीड़न और हत्या तक की घटनाएं हो चुकी हैं।” उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा नेता और पदाधिकारी खुद तमाम अपराधों में लिप्त हैं और भाजपा सरकार इनको बचाने में ही सारी ताकत लगाए हुए है। (एजेंसी)