ALIGARH

    अलीगढ़. जहाँ एक तरफ देश (India) में लोग कोरोना (Corona) के कहर से मर रहे हैं। वहीं अलीगढ़ (Aligarh) में कोरोना के साथ, शराब का कहर भी जारी है। अब तक जिले में 108 लोगों की जान जहरीली शराब के चलते जा चुकी है। वहीं पुलिस शराब कांड के मुख्य आरोप ऋषि शर्मा को आज यानी रविवार सुबह बुलंदशहर बॉर्डर से गिरफ्तार कर चुकी है। बता दें कि ऋषि शर्मा पर एक लाख रुपये का इनाम भी था। इससे पहले बीते शनिवार को एक अन्य आरोपी 25 हजार के इनामी को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। वहीं भाजपा नेता ऋषि शर्मा के अवैध रूप से बने फार्म हाउस को भी पुलिस ने JCB चलवाकर ध्वस्त करा दिया गया था।

    दरअसल अलीगढ में जहरीली शराब से लोगों की मौत होने का सिलसिला अभी भी नहीं थम पा रहा है। इधर शिकंजा कसे जाने के बाद कार्य‌वाही के डर से माफियाओं ने जहरीली शराब नहरों में बहा दी है। जिसकी वजह से सबसे पहले ‘जवां नहर’ में बहकर मिले देशी शराब के पऊए पीने से करीब 10 मजदूरों की मौत हो गई थी। इसी तरह से अकराबाद में शेखा नहर में मिले पऊए पीने से भी मजदूरों की हालत बिगड़ गई थी। वहीं शनिवार को बिहार निवासी 5 मजदूरों की मौत जेएन मेडीकल कॉलेज में उपचार के दौरान हो गई थी।

    शराब कांड में  फरार चल रहे आरोपी BJP नेता के फार्महाउस पर भी चली JCB –

    शराब कांड के फरार चल रहे मुख्य आरोपी भाजपा नेता बीडीसी ऋषि शर्मा के थाना जवां क्षेत्र स्थित फार्म हाउस पर शनिवार को प्रशासन ने जेसीबी चलवा दी। एसडीएम कोल रंजीत सिंह के नेतृत्व में गई टीम ने गांव छेरत में ध्वस्तीकरण की कार्यवाही की। फार्म हाउस का कुछ भाग सरकारी जमीन घेरकर भी बनाया जाने की बात प्रशासन की जाचं में सामने आ चुकी है।

    नहर में तलाशा जा रहा अ‌वैध शराब का जखीरा, दो दिन बंद रहेगी गंगा नहर –

    इधर ‘जवां व अकराबाद’ क्षेत्र में नहर में बहकर आई अवैध शराब के सेवन से पहले ही कई लोगों की जान जा चुकी हैं। ऐसे में अब सिंचाई विभाग ऊपरी गंगा नहर की सफाई कराने के साथ ही अवैध शराब को भी अब खोजकर नष्ट करेगा। जिसके लिए अलीगढ DM डीएम ने सिंचाई विभाग को 2 दिन नहर बंद करने निर्देश दिए हैं।