BJP MLA Surendra Singh

लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बलिया (Baliya) जिले में सरकारी अधिकारियों, पुलिस की मौजूदगी में दर्जनों गोलियां चला एक व्यक्ति की हत्या कर देने वाले भाजपा नेता धीरेंद्र सिंह (Dhirendra Singh) के बचाव में सत्तारुढ़ पार्टी के विधायक सुरेंद्र सिंह (Surendra Singh) खुल कर सामने आ गए हैं. अपने बयानों से आए दिन सरकार के लिए मुसीबत पैदा कर देने वाले बलिया के बैरिया से विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा कि भाजपा नेता ने अपनी रक्षा में गोली चलायी है.

बचाव में उतरे भाजपा विधायक सुरेन्द्र सिंह का बयान

घटना के बाद शुक्रवार सुबह भाजपा विधायक सुरेन्द्र सिंह ने अपने बयान में कहा कि दुर्जनपुर की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है पर प्रशासन की एकतरफा कार्यवाई न्याय का गला घोंट रही है. उन्होंने कहा कि घटना में 6 महिलाएं चोटिल होकर अस्पताल में है जबकि एक व्यक्ति बडे अस्पताल रेफर हो चुका है पर उनकी पीड़ा कोई नही देख रहा है. विधायक सुरेंद्र सिंह बोले कि भाजपा नेता धीरेन्द्र सिंह आत्मरक्षा में गोली नही चलाता तो उसके परिवार सहित दर्जनों लोग मारे जाते. उन्होंने कहा कि लाठी डंडे से वार करने वाले और गोली मारने वाले दोनों के खिलाफ कार्यवाई होनी चाहिए. सुरेंद्र सिंह ने कहा कि घटना की निंदा करने के साथ ही प्रशासन को दूसरे पक्ष की भी चिंता करना और न्याय देना चाहिए.

हत्या आरोपी धीरेंद्र ने आत्मरक्षा में चलायी गोली, क्या यह गलत -सुरेन्द्र सिंह

विधायक ने कहा कि यदि वो आत्मरक्षा में गोली चलाया है तो अपराध हो सकता है. आत्मरक्षा के लिए ही लाइसेंस निर्गत किये जाते है. धीरेन्द्र सिंह ने आत्म रक्षा में गोली चलाया है. यह गलत है क्या, उनके सामने मरने और मारने के अलावा कोई विकल्प नही था. इसीलिए उसने ये निर्णय लिया हालांकि हम इसे अच्छा नही मानते.

अभियुक्त धीरेंद्र सिंह भाजपा की भूतपूर्व सैनिकों की बलिया इकाई का प्रमुख – सुरेंद्र सिंह

बलिया  घटना का अभियुक्त धीरेंद्र सिंह स्थानीय चर्चित भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह का क़रीबी है और पार्टी से लंबे समय  से जुड़ा है. लेकिन सुरेंद्र सिंह ने साफ किया है कि धीरेंद्र सिंह उनसे ही अकेले जुड़ा नहीं बल्कि भाजपा का नेता है. विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा है कि अभियुक्त भाजपा की भूतपूर्व सैनिकों की बलिया इकाई का प्रमुख है.

 पुलिस-प्रशासन के सामने धीरेंद्र ने चलायी थी गोली, हुआ था फरार

गौरतलब है कि गुरुवार को बलिया जनपद के दुर्जनपुर गांव में राशन कोटे की दुकान को लेकर खुली बैठक में फायरिंग के दौरान एक व्यक्ति की मौत हो गयी थी. खुली बैठक में सैकड़ों गांव वाले और सरकार के कई अधिकारियों के साथ बड़ी तादाद में पुलिस वाले मौजूद थे. घटना के बाद इतने लोगों की मौजूदगी में भी आरोपी भाग निकला था जिसे बाद में पुलिस ने हिरासत में लिया.

अखिलेश यादव का योगी सरकार पर तंज 

बलिया हत्याकांड के बाद समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने तंज कसते हुए कहा कि एसडीएम, सीओ व अन्य अधिकारियों के सामने भाजपा नेता ने एक ग्रामीण की गोली चलाकर हत्या कर दी है. इस घटना से उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था का सच सबके सामने आ गया है. अखिलेश ने कहा कि देखना है कि क्या एनकाउंटर वाली सरकार अपने लोगों की भी गाड़ी पलटाती है.

आरोपी धीरेंद्र सिंह के भाई को भी पुलिस ने किया गिरफ्तार

उधर बलिया कांड के मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह धीरु के भाई देवेंद्र सिंह की भी गिरफ्तारी हुयी है. साथ ही  पांच अन्य को भी गिरफ्तार किया गया है. बलिया प्रशासन के मुताबिक दुर्जनपुर गांव मे सभी लाइसेंसी असलहों का लाइसेंस निरस्त किया जायेगा. डीजीपी हितेश चन्द्र अवस्थी ने बताया कि अब तक बलिया मामले में एक नामजद व्यक्ति और कुछ अन्य लोगो को गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने कहा कि इस मामले में जितने पुलिस कर्मी मौजूद थे सबको सस्पेंड किया गया है और मामले की अभी जाँच चल रही है. जो भी इस मामले में दोषी पाया जाता है उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी.

राजेश मिश्र