Akhilesh

लखनऊ. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा के शासन में आम नागरिकों के अधिकार छीने जाने का आरोप लगाते हुए रविवार को कहा कि भाजपा ने गरीब किसानों का वोट लिया है तो नये कृषि कानूनों को लेकर उनकी बात भी सुने।

अखिलेश ने डॉक्टर भीमराव अम्बेडकर के परिनिर्वाण दिवस पर सपा राज्य मुख्यालय पर आयोजित कार्यक्रम में कहा कि अम्बेडकर का रास्ता कठिनाइयों से भरा था फिर भी उन्होंने गरीब और दलित को सम्मान दिलाया। उन्होंने कहा कि संविधान में सबको वोट का अधिकार दिया, जिससे जिनको अछूत माना जाता था उन्हें भी बराबरी और सुरक्षा की गारंटी मिली।

उन्होंने कहा “आज जो माहौल है उसमें नागरिकों के अधिकार छीने जा रहे हैं। अन्नदाता के साथ खिलवाड़ हो रहा है। ठंड के दिनों में भी किसान दिल्ली सीमा पर जमे हैं। गरीबों-किसानों का भाजपा ने वोट लिया है तो वह उनकी बात भी सुने। लेकिन विडम्बना है कि भाजपा तो उद्योगपतियों को ही मौका देना चाहती है।”

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा “आज मुद्दों पर चुनाव नहीं हो रहे हैं। भाजपा की राजनीति से दलितों, पिछड़ों को आगे आने का मौका नहीं मिलेगा। नौकरी और पढ़ाई में भी बाधा आएगी। आज इस बात की आवश्यकता है कि सब मिलकर डॉक्टर अम्बेडकर का रास्ता अपनायें। उनके द्वारा संविधान में अंकित लोकतंत्र, समाजवाद और पंथ निरपेक्षता को जब हम अपनाकर चलेंगे तभी हमारा सम्मान एवं हमारे अधिकार सुरक्षित रहेंगे।” (एजेंसी)