2 Mahua liquor seller arrested - Tehsil police action, goods worth 1 lakh seized
File Photo

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के प्रयागराज तथा राजधानी लखनऊ में पिछले दिनों जहरीली शराब से हुई लोगों की मौत की पृष्ठभूमि में अवैध कारोबार के खिलाफ चलाए जा रहे राज्य व्यापी अभियान के दौरान पिछले चार दिनों में 283 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

आबकारी विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय आर. भूसरेड्डी ने सोमवार को बताया कि जहरीली शराब से लोगों की मौत की घटनाओं के मद्देनजर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर अवैध रूप से शराब कारोबार के खिलाफ 18 नवंबर से अभियान चलाया जा रहा है जो दो दिसंबर तक चलेगा।

उन्होंने बताया कि अवैध रूप से शराब के निर्माण, बिक्री और उसकी तस्करी की रोकथाम के लिए चलाए जा रहे इस अभियान के तहत पिछले चार दिनों में इस कारोबार में शामिल 283 लोगों को गिरफ्तार किया गया है तथा कुल 888 मामले दर्ज किए गए हैं।

भूसरेड्डी ने बताया कि इस अभियान के दौरान अब तक अवैध रूप से बनाई गई 18,286 लीटर शराब बरामद की गई है और इसके निर्माण में इस्तेमाल होने वाले 1,52,575 किलोग्राम लहन को मौके पर नष्ट किया गया है। उन्होंने बताया कि सभी जिला आबकारी अधिकारियों, उप आबकारी आयुक्तों तथा संयुक्त आबकारी आयुक्तों को प्रदेश की विभिन्न आबकारी दुकानों का निरीक्षण करते हुए उनसे नमूने लेकर जांच कराने के निर्देश दिए गए थे।

इस सिलसिले में अब तक 12,957 दुकानों का निरीक्षण कर 14,892 नमूने लिए गए हैं। इन नमूनों को मेरठ, लखनऊ, गोरखपुर और प्रयागराज की आबकारी प्रयोगशाला में जांच के लिए भेजा जा रहा है। अपर मुख्य सचिव ने बताया कि सभी क्षेत्रीय अधिकारियों को शराब की दुकानों के गहन निरीक्षण और संदिग्ध आचरण वाले दुकानदारों की दुकानों तथा अल्कोहल चोरी की आशंका वाले ढाबों के आसपास की दुकानों पर खास नजर रखने के निर्देश दिए गए हैं।

उन्होंने बताया कि शराब के अवैध कारोबार में शामिल लोगों के खिलाफ आबकारी अधिनियम के साथ-साथ भारतीय दंड विधान, गुंडा एवं गैंगस्टर एक्ट के साथ-साथ अन्य कठोर धाराओं में भी कार्यवाही के निर्देश दिए गए हैं। गौरतलब है कि पिछले दिनों प्रयागराज तथा राजधानी लखनऊ में जहरीली शराब पीने से कम से कम नौ लोगों की मौत हो गई थी। (एजेंसी)