Government's big decision amid rising corona virus case in England, now all adults will be screened twice in a week
File

    राजेश मिश्र

    लखनऊ. टीकाकरण अभियान (Vaccination Campaign) के बीच में ही यूपी (UP) में एक बार फिर से कोरोना बम (Corona Bomb) फूटा है। बीते बीस दिनों में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के मामले दोगुना हो चुके हैं। राजधानी लखनऊ (Lucknow) और कानपुर (Kanpur) में सबसे ज्यादा संक्रमण के मामले मिल रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, राज्‍य के सभी 75 जिले अब कोरोना वायरस संक्रमण की चपेट में हैं। प्रदेश में एक्टिव केस 53 फीसदी बढ़ने के साथ कोरोना वायरस का संक्रमण 16 जिलों में काफी तेजी से पांव पसार रहा है।

    प्रदेश सरकार के मुताबिक, बुधवार को लखनऊ में 220 नए संक्रमित मिले थे। इसके साथ कानपुर, प्रयागराज, गाजियाबाद, वाराणसी, मेरठ, आगरा, बरेली, कासगंज, संभल, महोबा, श्रावस्ती, सिद्धार्थनगर, रायबरेली, हापुड़ और बलरामपुर में बड़ी संख्या में नए संक्रमित मिल रहे हैं। प्रदेश भर में अकेले बुधवार को कोरोना के 737 नए संक्रमित मिले। 

    कोरोना मरीजों की संख्या में हो रहा इजाफा

    जनवरी व फरवरी में प्रतिदिन मिल रहे रोगियों का जो ग्राफ तेजी से नीचे गिरा था अब वह फिर ऊपर की ओर बढ़ रहा है। प्रदेश भर में एक मार्च को सिर्फ 87 संक्रमित थे। बुधवार को मिले मरीज इसकी तुलना में करीब आठ गुना अधिक हैं। आठ जनवरी के बाद मरीजों की यह सबसे बड़ी संख्या है। तब 775 मरीज संक्रमित थे।

    कानपुर जिला जेल में  कोरोना वायरस का संक्रमण तेज 

    उधर, कानपुर जिला जेल में कोरोना वायरस का संक्रमण तेज हो गया है। बीते दिनों 12 कैदी संक्रमित मिलने के बाद गुरुवार को 11 नए कैदियों में संक्रमण मिला है। यहां के जिला कारागार में एक बार फिर कोरोना बम फूटा है। लखनऊ में लगभग हर दिन केस की संख्या बढ़ती जा रही है। अकेले मार्च में ही संक्रमण के मामले  दोगुने बढ़े हैं, जबकि बुधवार को पांच लोगों ने दम तोड़ा था। मौत का यह आंकड़ा भी दो महीने में सर्वाधिक है। इससे पहले इसी साल 21 जनवरी को एक दिन में छह मरीजों की मौत हुई थी। प्रदेश में अब 4,388 एक्टिव केस हैं। कोरोना मरीजों की संख्‍या को बढ़ते देख इलाहाबाद हाई कोर्ट और लखनऊ बेंच में दो अप्रैल तक अवकाश घोषित कर दिया गया है।

    लखनऊ के कोरोना हेल्पलाइन में भी 12 कर्मियों में संक्रमण 

    गौरतलब है कि लखनऊ के कोरोना हेल्पलाइन में भी 12 कर्मियों में संक्रमण मिलने के बाद से वहां पर खलबली मच गई है। वहीं, महानगर स्थित एक प्राइवेट स्‍कूल में संक्रमित मरीज मिलने के बाद नगर निगम ने स्‍कूल को सील कर दिया है। टीकाकरण के लिए 104 हेल्पलाइन नंबर के कार्यालय में भी करीब 14 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए। राजधानी में राज्य हेल्प लाइन नंबर के ऑफिस को 48 घंटे के लिए बंद कर दिया गया है। टीकाकरण करा रहे लोगों को इससे परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। उन्हें जानकारी हासिल करने में दिक्कत होगी।

    राज्य सरकार हाई अलर्ट पर

    महाराष्ट्र, केरल, दिल्ली, पंजाब, मध्य प्रदेश तथा राजस्थान के बाद उत्तर प्रदेश में एक्टिव केस 56 प्रतिशत बढऩे को लेकर राज्य सरकार हाई अलर्ट पर है, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी गुरुवार शाम को लखनऊ में उच्च स्तरीय बैठक में संक्रमण से रोकथाम के उपायों पर चर्चा की। गौरतलब है कि एक मार्च को प्रदेश में 2078 एक्टिव केस थे, जो 24 दिनों में दोगुने से अधिक बढ़कर 4388 हो गए हैं। प्रदेश में अभी तक 6.09 लाख लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं, जिसमें 5.96 लाख मरीज ठीक हो चुके हैं। अभी तक कुल 8769 मरीजों की मौत हुई है।