murder

आजमगढ़ (उत्तर प्रदेश). जिले में रविवार को कथित रूप से शराब पीने के लिये धन देने से मना करने पर एक मंदिर के बुजुर्ग पुजारी की हत्या कर दी गयी। वारदात से नाराज ग्रामीणों ने आजमगढ़—गोरखपुर राज्यमार्ग पर शव रखकर रास्ता जाम कर दिया।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि मुबारकपुर थाना क्षेत्र के गुलउर गांव स्थित एक मंदिर के पुजारी रामचन्द्र दास (80) शनिवार की रात गुलउर बाजार गये थे। वहां से लौटते वक्त पड़ोस के बिजरवा गांव निवास एक शराबी युवक उनके पास आया और नशे के लिये पैसे मांगने लगा। रुपये देने से मना करने पर वह गुस्सा गया और उसने महंत पर डंडे से ताबड़तोड़ प्रहार किये और भाग गया।

उन्होंने बताया कि गम्भीर रूप से घायल पुजारी को जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया जहां रविवार को उनकी मृत्यु हो गयी। उनकी मौत की खबर मिलने पर ग्रामीण आक्रोशित हो गये और उन्होंने गुलउर बाजार के पास आजमगढ-गोरखपुर राज्यमार्ग पर महंत का शव रखकर जाम लगा दिया।

सूत्रों ने बताया कि इसकी जानकारी मिलने पर वरिष्ठ प्रशासनिक एवं पुलिस अफसर मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को समझाने-बुझाने की कोशिश की। अंतिम समाचार मिलने तक जाम नहीं खुला था। पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि मामले के आरोपी युवक को शनिवार को ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। (एजेंसी)