Yogi adityanath

नई दिल्ली. पंजाब और हरियाणा में तीन केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ व्यापक प्रदर्शनों के बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath) ने शुक्रवार को कहा कि राज्य में किसान कल्याण और कृषि क्षेत्र का विकास उनकी सरकार की शीर्ष प्राथमिकताएं है। उत्तर प्रदेश में अपनी सरकार द्वारा उठाये गये किसान हितैषी कदम गिनाते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने कोरोना वायरस के कारण लगे लॉकडाउन में भी बिना किसी अवरोध के किसानों की उपज की खरीद सुनिश्चित की।

आदित्यनाथ ने सीआईआई (CII program) के एक ऑनलाइन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में कोविड-19 से बचाव के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए 100 से अधिक चीनी मिलों ने सफलतापूर्वक काम किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन के दौरान रबी की फसल कटाई के लिए तैयार हुई, राज्य सरकार ने किसानों को उनके उत्पाद बेचने में मदद के लिए 6,000 खरीद केंद्र बनाये और इन केंद्रों ने सभी सावधानियों का पालन करते हुए सफलतापूर्वक काम किया।

उन्होंने कहा कि इन केंद्रों ने 36 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद की। योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा कि खरीफ की फसल के लिए भी 4,000 खरीद केंद्र बनाये गये हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने अगले चार साल में किसानों की उपज के सुरक्षित भंडारण के लिए जमीनी स्तर पर 5,000 से अधिक गोदाम बनाने का फैसला भी किया है।(एजेंसी)