arrest
File Photo

    नोएडा: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की नोएडा पुलिस (Noida Police) ने एक अवैध अंतरराष्ट्रीय कॉल एक्सचेंज (International call exchange) का भंडाफोड़ कर तीन लोगों को गिरफ्तार (Arrest) किया है और उनके पास से बड़ी मात्रा में सिम कार्ड, सिम बॉक्स, सर्वर, लैपटॉप, सीपीयू, नकदी ( Sim card, Sim Box, Server, Laptop, Cpu, Cash) आदि बरामद की है। गिरफ्तार आरोपियों से गुप्तचर एजेंसियां भी पूछताछ कर रही हैं। पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला है कि ये लोग अरब देशों से आने वाली अंतरराष्ट्रीय फोन कॉल को गेटवे के माध्यम से सिस्को का सर्वर प्रयोग कर लोकल कॉल में बदल देते थे। इस तरह ये लोग रोजाना भारत सरकार को लाखों रुपये का चूना लगा रहे थे।

    सहायक पुलिस आयुक्त रजनीश वर्मा ने बताया कि एक सूचना के आधार पर नोएडा की थाना सेक्टर-58 पुलिस, टाटा मोबाइल कंपनी तथा दूरसंचार विभाग की टीम ने बीती रात सेक्टर-62 स्थित आइथम टॉवर पर संयुक्त रूप से छापा मारा जहां से ओवैस आलम मलिक, पुष्पेंद्र कुमार तथा पवन कुमार को गिरफ्तार किया गया। उन्होंने बताया कि ये लोग टॉवर में अवैध रूप से अंतरराष्ट्रीय कॉल एक्सचेंज चला रहे थे। उनके पास से फर्जी दस्तावेजों के आधार पर हासिल किए गए 150 सिम कार्ड, कई सिम बॉक्स, पांच सर्वर, इंटरनेट सर्वर, लैपटॉप, डेस्कटॉप, इंटरनेट कॉल सर्वर, नकदी आदि बरामद हुई है। अधिकारी ने बताया कि पूछताछ के दौरान गिरफ्तार आरोपी ओवेश आलम मलिक ने बताया कि वे अरब देशों से आने वाली ‘वॉयस कॉल’ को गेटवे के माध्यम से सिस्को के सर्वर और पीआरआई के जरिए लोकल कॉल में बदल देते थे।

    उन्होंने बताया कि पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला है कि इन लोगों ने टाटा कंपनी से डीलरशिप ली थी और ये सिम बॉक्स का प्रयोग कर कॉल करवाते थे। सिम बॉक्स लगने की वजह से मोबाइल फोन की लोकेशन का पता नहीं चलता। वर्मा ने कहा कि इनके द्वारा किया जा रहा कृत्य देश की सुरक्षा के लिए भी घातक था। उन्होंने बताया कि इस एक्सचेंज के माध्यम से विदेश में रहने वाली कोई राष्ट्रद्रोही ताकत अगर किसी से संपर्क करती तो वह कॉल ट्रेस नहीं हो पाती। अधिकारी ने कहा कि गिरफ्तार आरोपियों से गुप्तचर एजेंसियों के अधिकारी भी पूछताछ कर रहे हैं और यह पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि अब तक इन लोगों ने किन-किन लोगों से भारत में किस-किस की बात कराई तथा कितने रुपये का भारत सरकार को चूना लगाया। उन्होंने बताया कि मलिक मुरादाबाद का रहनेवाला है। उसने अपने घर पर भी एक एक्सचेंज लगा रखा है। इस बारे में मुरादाबाद पुलिस को सूचना दे दी गई है और वहां की पुलिस भी कार्रवाई कर रही है।